377 परमेश्वर पर विश्वास करके भी उसकी अवहेलना करने वालों का परिणाम

सृजन से लेकर आजतक कइयों ने की है

ईश-वचनों की अवज्ञा,

इसलिए ठीक होने की धारा से

निकाले गए हैं वे।

अंत में उनके शरीर हुए तबाह,

उनकी आत्माएँ नरक में आज भी सज़ा पाएँ।


अनेक लोग ईश-वचन का अनुसरण करके भी

उसके प्रबोधन के विरुद्ध चले गए हैं,

इसलिए ईश्वर ने उन्हें निकाल दिया है।

शैतान के वश में, उसके विरोधी बनकर,

बस ऊपर से उसके वचनों को मानते,

उनके सार को नहीं,

वचनों के सार को नहीं।


अनेक लोग बस कल के

ईश-वचनों को सुनते हैं।

पुराने कचरे से चिपके रहते हैं,

आज की फसल को सँजोते नहीं।

वे शैतान के बंदी,

अनंत पापी बन गए हैं,

ईश्वर का विरोध करने वाले

दुश्मन बन गए हैं।

जब ईश्वर का रोष होता है चरम पर,

तब पाते वे उसका न्याय।

अंधेरी गुफाओं में कैद, वे हैं अंधी,

सड़ी लाशें, वे हैं बंदी शैतान के!


— 'वचन देह में प्रकट होता है' से रूपांतरित

पिछला: 376 जो परमेश्वर के प्रति अवज्ञाकारी हैं, वे उससे विश्वासघात करते हैं

अगला: 378 मनुष्य की प्रकृति के विश्वासघाती होने का कारण

क्या आप जानना चाहते हैं कि सच्चा प्रायश्चित करके परमेश्वर की सुरक्षा कैसे प्राप्त करनी है? इसका तरीका खोजने के लिए हमारे ऑनलाइन समूह में शामिल हों।
WhatsApp पर हमसे संपर्क करें
Messenger पर हमसे संपर्क करें

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

Iसमझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग,सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के लिए...

वचन देह में प्रकट होता है न्याय परमेश्वर के घर से शुरू होता है अंत के दिनों के मसीह, सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अत्यावश्यक वचन परमेश्वर के दैनिक वचन सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों का संकलन मेमने का अनुसरण करो और नए गीत गाओ जीवन में प्रवेश पर उपदेश और वार्तालाप राज्य का सुसमाचार फ़ैलाने के लिए दिशानिर्देश अंत के दिनों के मसीह—उद्धारकर्ता का प्रकटन और कार्य परमेश्वर की भेड़ें परमेश्वर की आवाज को सुनती हैं (नये विश्वासियों के लिए अनिवार्य चीजें) परमेश्वर की आवाज़ सुनो परमेश्वर के प्रकटन को देखो राज्य के सुसमाचार पर अत्यावश्यक प्रश्न और उत्तर (संकलन) मसीह के न्याय के आसन के समक्ष अनुभवों की गवाहियाँ विजेताओं की गवाहियाँ (खंड I) मैं वापस सर्वशक्तिमान परमेश्वर के पास कैसे गया

सेटिंग्स

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें