157 ऐसे लोगों का एक समूह है

1

हम लोग धन्य हैं कि हम परमेश्वर की वाणी सुनते हैं, और स्वर्ग के राज्य के भोज में शामिल होते हैं।

हम परमेश्वर के वचनों को खाते-पीते हैं और सत्य पर संगति करते हैं, हमारा कलीसियाई जीवन आनंददायक और तुलना से परे है।

हम सत्य को समझकर मुक्त हो गए हैं, हम नाचते-गाते हैं, और अत्यंत उत्साह से परमेश्वर का गुणगान करते हैं।

स्वर्ग का पवित्र शहर धरती पर उतर आया है, हम लोग खुशियों के पालने में जी रहे हैं।

2

दूर पुलिस का सायरन बजता है, बड़े लाल अजगर के सिपाही दरवाजा तोड़कर अंदर घुस आते हैं।

वे एक गोली चलाकर सबको वहींखड़े रहने के लिए कहते हैं, लेकिन हम सभी जैसे-तैसे इधर-उधर भाग जाते हैं।

हम लोग हमेशा की तरह परमेश्वर के वचनों को खाने-पीने के लिए इकट्ठे होते हैं। कायर लोग बुरी तरह से डरे हुए हैं।

जो लोग परमेश्वर को सचमुच चाहते हैं, वे खतरे के बावजूद आगे बढ़ते हैं—ऐसे लोग हैं जो इस संकरे मार्ग पर चलने की हिम्मत दिखाते हैं।

3

सेवा करने वालों का परीक्षण हमारे दिलों को कुचल देता है, शुद्धिकरण से हमारे आँसू नदियों में बह जाते हैं।

हम शपथ लेते हैं कि अंत तक निष्ठापूर्वक सेवा करेंगे, और निराशा के पलों में हमें परमेश्वर का हाथ दिखाई देता है।

सेवा करने केइच्छुक होने पर हम परमेश्वर के लोग बन जाते हैं; दुख-सुख आपस में मिल जाते हैं, हम महसूस करते हैं कि हम परमेश्वर के ऋणी हैं।

परमेश्वर के प्रति प्रेम के इस चलन में, हम सभी ने परमेश्वर से सच्चा प्रेम करने का संकल्प किया है।

4

परमेश्वर के वचनों के अंश-दर-अंश घनघोर बारिश की तरह आते हैं, वे एक तेज़ तलवार की तरह हमारे दिलों को वेध देते हैं।

सभी जीत लिए गए हैं, और भूमि पर साष्टांग दंडवत करते हैं, यातना की भयंकर पीड़ा में जीते हुए।

हमारे चेहरे फीके पड़े हुए हैं और हमारी शर्मिंदगी का बुरा हाल है, हमारी भ्रष्टता का सत्य पूरी तरह से उजागर हो चुका है।

हमने सत्य को समझ लिया है और स्वयं को जान लिया है, और हम परमेश्वर के आयोजनों को बिना शिकायत के स्वीकारते हैं।

5

मैं परमेश्वर के वचनों के न्याय से पूरी तरह आश्वस्त हूँ; परीक्षणों और क्लेशों द्वारा मैंने उद्धार का अनुग्रह हासिल कर लिया है।

मेरी आस्था ज़्यादा व्यवहारिक हुई है, मुझमें सच्ची आस्था है, और मैं परमेश्वर की सर्वशक्तिमत्ता और बुद्धि का गुणगान करता हूँ

परीक्षणों और क्लेशों से गुजरते हुए मैंपरमेश्वर पर भरोसा करता हूँ। देहधारी परमेश्वर व्यवहारिक परमेश्वर है।

कोई मुझसे सच्चा मार्ग नहीं छुड़वा सकता, "सेवा करने वाला" मेरा अच्छा मित्र बन गया है।

6

मैंने एक नया इंसान बनने का संकल्प कर लिया है, चेतना और तर्क-बुद्धि इंसानियत की निशानी हैं।

बुराई करने वाले बुराई करते हैं और उन्हें उजागर करके हटा दिया जाता है, सत्य पर अमल करने वालों को परमेश्वर स्वीकार कर लेता है।

परमेश्वर का अनुसरण करने की हमारी इच्छा अटल है और हम मृत्यु तक वफादार रहेंगे; परीक्षण और क्लेश इन पर विजय पाने वालों का एक समूह तैयार करते हैं।

हम सत्य का अनुसरण करते हैं, और हम सभी सुंदर गवाहियाँ देते हैं, और जो परमेश्वर से प्रेम करते हैं वे पूर्ण किए जाते हैं।

पिछला: 156 परमेश्वर के लिए मेरा प्यार कभी नहीं बदलेगा

अगला: 158 कौन है परमेश्वर के हृदय के लिए विचारवान

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

1समझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग, सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के...

सेटिंग

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें