460 पवित्र आत्मा के काम को मानो तो तुम चलोगे पूर्णता के पथ पर

1

पवित्र आत्मा न केवल काम करता है

सिर्फ़ उन लोगों में जिनका ईश्वर करे उपयोग,

पर अधिकतर काम वो करता है कलीसिया के भीतर।

वह किसी में भी काम कर रहा होगा।

तुम्हें लग सकता है कि उसका काम अब तुम में है,

अनुसरण करो जब वह दूसरे में काम करे।

जितना ज़्यादा करो वर्तमान प्रकाश का अनुसरण,

उतना ज़्यादा तुम्हारा जीवन, विकसित हो सकता है।

व्यक्ति चाहे किसी भी प्रकार का हो,

गर ईश्वर उनमें काम करे तो अनुसरण करो।

उनके अनुभवों को, अपने अनुभव से जानो,

तब इससे भी ऊँची चीज़ें तुम्हारी अपनी होंगी।

ऐसा करो तो तुम करोगे जल्दी प्रगति।

इस तरीके से जीवन ज़्यादा विकसित होगा।

यह मनुष्य के लिए पूर्णता का मार्ग है।

यह मनुष्य के लिए पूर्णता का मार्ग है।

2

पवित्र आत्मा के कार्य का पालन करो,

और तुम्हें पूर्णता का मार्ग मिल जाएगा।

नहीं जानते तुम किसके माध्यम से ईश्वर तुम्हें पूर्ण करेगा,

कैसे मदद करेगा अंतर्दृष्टि हासिल करने में।

अगर तुम सही मार्ग पर चलने में सक्षम हो,

तो ईश्वर द्वारा पूर्ण किए जाने की उम्मीद है,

और तुम सभी चीजों में प्रबुद्ध होगे।

अगर नहीं, तो तुम्हारे भविष्य में है, सूनापन और अंधकार।

व्यक्ति चाहे किसी भी प्रकार का हो,

अगर ईश्वर उन में काम करे तो अनुसरण करो।

उनके अनुभवों को, अपने अनुभव से जानो,

तब इससे भी ऊँची चीज़ें तुम्हारी अपनी होंगी।

ऐसा करो तो तुम करोगे जल्दी प्रगति।

इस तरीके से जीवन ज़्यादा विकसित होगा।

यह मनुष्य के लिए पूर्णता का मार्ग है।

यह मनुष्य के लिए पूर्णता का मार्ग है।

3

चाहे अन्य लोगों के लिए जो भी प्रकट करे पवित्र आत्मा

इससे सीखो तो यह तुम्हारा जीवन बन जाता है,

फिर इसे तुम दूसरों को प्रदान कर सकते हो।

व्यक्ति चाहे किसी भी प्रकार का हो,

अगर ईश्वर उन में काम करे तो अनुसरण करो।

उनके अनुभवों को, अपने अनुभव से जानो,

तब इससे भी ऊँची चीज़ें तुम्हारी अपनी होंगी।

ऐसा करो तो तुम करोगे जल्दी प्रगति।

इस तरीके से जीवन ज़्यादा विकसित होगा।

यह मनुष्य के लिए पूर्णता का मार्ग है।

यह मनुष्य के लिए पूर्णता का मार्ग है।

4

सिर्फ़ वचनों को रटना नहीं है अनुभव करना;

दूसरों के प्रकाश के माध्यम से अभ्यास का मार्ग खोजो।

फिर अपने अनुभव और ज्ञान को साझा करो।

है ये तुम्हारे जीवन के लिए अधिक उपयोगी।

ईश्वर से जो भी मिले उसका पालन करो,

ईश्वर की मर्ज़ी को खोजो, सभी चीजों से सीखो,

ताकि तुम्हारा जीवन विकसित हो।

जल्दी विकास होता है ऐसे अभ्यास से।

व्यक्ति चाहे किसी भी प्रकार का हो,

अगर ईश्वर उन में काम करे तो अनुसरण करो।

उनके अनुभवों को, अपने अनुभव से जानो,

तब इससे भी ऊँची चीज़ें तुम्हारी अपनी होंगी।

ऐसा करो तो तुम करोगे जल्दी प्रगति।

इस तरीके से जीवन ज़्यादा विकसित होगा।

यह मनुष्य के लिए पूर्णता का मार्ग है।

यह मनुष्य के लिए पूर्णता का मार्ग है।

— "वचन देह में प्रकट होता है" में 'जो सच्चे हृदय से परमेश्वर की आज्ञा का पालन करते हैं वे निश्चित रूप से परमेश्वर द्वारा हासिल किए जाएँगे' से रूपांतरित

पिछला: 459 पवित्र आत्‍मा के कार्य पर ध्‍यान दो

अगला: 461 परमेश्वर अपनी उम्मीद रखता है पूरी तरह इंसान पर

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

1समझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग, सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के...

610 प्रभु यीशु का अनुकरण करो

1पूरा किया परमेश्वर के आदेश को यीशु ने, हर इंसान के छुटकारे के काम को,क्योंकि उसने परमेश्वर की इच्छा की परवाह की,इसमें न उसका स्वार्थ था, न...

सेटिंग

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें