738 परमेश्वर को संतुष्ट करने के लिए तुम्हें उसके मानक को समझना चाहिए

अपने निष्कर्ष तय करने से पहले तुम,

अपने बारे में ईश्वर के विचारों को समझो।

पता लगाओ वो क्या सोचता है, तब तय करो

सही है या नहीं तुम्हारी सोच।

कितने कष्ट सहे उससे या समय से,

ईश्वर मापता नहीं किसी के परिणाम।

ईश्वर के मानक के अनुरूप नहीं जो,

इंसानी धारणा और कल्पना से आता वो।

अगर तुम अपनी सोच बदल दो,

पहले के गलत विचार सही कर लो,

अब से ईश्वर का भय मानो, बुराई से दूर रहो,

हर चीज़ में ईश्वर का सम्मान करो,

अगर ईश्वर और खुद को बयाँ करने वाले

अपने विश्वासों, कल्पनाओं, धारणाओं से दूर रहो,

अगर उसके इरादों को खोजो,

इंसान के प्रति उसके रवैये को समझो,

उसकी संतुष्टि के लिए उसके मानक पूरे करो,

तो कमाल हो जाएगा,

ये दिखाएगा कि तुम ईश्वर का भय मानने और

बुराई से दूर रहने के मार्ग पर चल पड़े हो।


अगर अपनी धारणाओं, कल्पनाओं पर अड़ोगे,

तो ईश्वर ठुकरा देगा तुम्हें।

क्योंकि तुम उसके आगे अपनी योग्यताओं पर इतराते हो,

उससे बराबरी और बहस करते हो।

तुम उसकी इच्छा को, इंसान के प्रति

उसके रवैये को, जानने की कोशिश नहीं करते।

अगर तुम इस मार्ग पर चलते हो,

तो खुद को सबसे ऊपर रखते हो।

इससे ईश्वर का न मान बढ़े, न सम्मान।

तुम ईश्वर में नहीं, खुद में आस्था रखते हो।

नहीं चाहता इन लोगों को ईश्वर,

नहीं करेगा उनका उद्धार ईश्वर।

अगर तुम अपनी सोच बदल दो,

पहले के गलत विचार सही कर लो,

अब से ईश्वर का भय मानो, बुराई से दूर रहो,

हर चीज़ में ईश्वर का सम्मान करो,

अगर ईश्वर और खुद को बयाँ करने वाले

अपने विश्वासों, कल्पनाओं, धारणाओं से दूर रहो,

अगर उसके इरादों को खोजो,

इंसान के प्रति उसके रवैये को समझो,

उसकी संतुष्टि के लिए उसके मानक पूरे करो,

तो कमाल हो जाएगा,

ये दिखाएगा कि तुम ईश्वर का भय मानने और

बुराई से दूर रहने के मार्ग पर चल पड़े हो।


'वचन देह में प्रकट होता है' से रूपांतरित

पिछला: 742 वही मनुष्य खुश है जो परमेश्वर का सम्मान करता है

अगला: 830 अय्यूब और पतरस की तरह गवाह बनो

दुनिया आपदा से घिर गई है। यह हमें क्या चेतावनी देती है? आपदाओं के बीच हम परमेश्वर द्वारा कैसे सुरक्षित किये जा सकते हैं? इसके बारे में ज़्यादा जानने के लिए हमारे साथ हमारी ऑनलाइन मीटिंग में जुड़ें।
WhatsApp पर हमसे संपर्क करें
Messenger पर हमसे संपर्क करें

संबंधित सामग्री

वचन देह में प्रकट होता है अंत के दिनों के मसीह के कथन (संकलन) अंत के दिनों के मसीह, सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अत्यावश्यक वचन परमेश्वर के दैनिक वचन सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों का संकलन मेमने का अनुसरण करो और नए गीत गाओ जीवन में प्रवेश पर उपदेश और वार्तालाप अंत के दिनों के मसीह के लिए गवाहियाँ परमेश्वर की भेड़ें परमेश्वर की आवाज को सुनती हैं (नये विश्वासियों के लिए अनिवार्य चीजें) परमेश्वर की आवाज़ सुनो परमेश्वर के प्रकटन को देखो राज्य के सुसमाचार पर अत्यावश्यक प्रश्न और उत्तर (संकलन) मसीह के न्याय के आसन के समक्ष अनुभवों की गवाहियाँ विजेताओं की गवाहियाँ (खंड I) मैं वापस सर्वशक्तिमान परमेश्वर के पास कैसे गया

सेटिंग्स

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-सूची

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें