743 गरिमा है उसमें जो करता है आदर परमेश्वर का

I

गर नहीं है दिल ऐसा तुम्हारा, जो माने भय और माने हुक्म परमेश्वर का,

गर नहीं समझते सत्य को तुम, जब करते हो काम,

होते हो सिद्धांतों से अनजान और दुविधा में,

तो होते हो बेग़ैरत तुम, बेग़ैरत तुम।

गरिमा से जियो, सत्यनिष्ठा से जियो,

और दिल रखो ऐसा जिसमें परमेश्वर के लिये श्रद्धा हो।

गरिमा से जियो, सत्यनिष्ठा से जियो,

और दिल रखो ऐसा जो हुक्म परमेश्वर का मानता हो, मानता हो।


II

सुने हैं तुमने जो बड़े- बड़े उपदेश, सिद्धांत जो तुम जानते हो,

ज्ञान जो पास है तुम्हारे, बिल्कुल इसके मायने नहीं होंगे।

लौट आओ वहाँ जो सचमुच सबसे ज़्यादा मायने रखता है।

सत्य का अनुसरण करो।

सत्य का अनुसरण करो, परमेश्वर का हुक्म मानो, भय मानो।

यही है आधार, पहला और सबसे अहम, सबसे अहम।

गरिमा से जियो, सत्यनिष्ठा से जियो,

और दिल रखो ऐसा जिसमें परमेश्वर के लिये श्रद्धा हो।

गरिमा से जियो, सत्यनिष्ठा से जियो,

और दिल रखो ऐसा जो हुक्म परमेश्वर का मानता हो, मानता हो।


"मसीह की बातचीतों के अभिलेख" से

पिछला: 742 वही मनुष्य खुश है जो परमेश्वर का सम्मान करता है

अगला: 744 शैतान पर अय्यूब की जीत का प्रमाण

क्या आप जानना चाहते हैं कि सच्चा प्रायश्चित करके परमेश्वर की सुरक्षा कैसे प्राप्त करनी है? इसका तरीका खोजने के लिए हमारे ऑनलाइन समूह में शामिल हों।
WhatsApp पर हमसे संपर्क करें
Messenger पर हमसे संपर्क करें

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

Iसमझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग,सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के लिए...

वचन देह में प्रकट होता है न्याय परमेश्वर के घर से शुरू होता है अंत के दिनों के मसीह, सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अत्यावश्यक वचन परमेश्वर के दैनिक वचन सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों का संकलन मेमने का अनुसरण करो और नए गीत गाओ जीवन में प्रवेश पर उपदेश और वार्तालाप राज्य का सुसमाचार फ़ैलाने के लिए दिशानिर्देश अंत के दिनों के मसीह—उद्धारकर्ता का प्रकटन और कार्य परमेश्वर की भेड़ें परमेश्वर की आवाज को सुनती हैं (नये विश्वासियों के लिए अनिवार्य चीजें) परमेश्वर की आवाज़ सुनो परमेश्वर के प्रकटन को देखो राज्य के सुसमाचार पर अत्यावश्यक प्रश्न और उत्तर (संकलन) मसीह के न्याय के आसन के समक्ष अनुभवों की गवाहियाँ विजेताओं की गवाहियाँ (खंड I) मैं वापस सर्वशक्तिमान परमेश्वर के पास कैसे गया

सेटिंग्स

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें