279 परमेश्वर ने नीनवे के राजा के पश्चाताप की प्रशंसा की

1

जब नीनवे के राजा ने सुना कि यहोवा उन्हें तबाह करेगा,

गद्दी से उतर, उसने अपने कपड़े उतारे, टाट पहनकर बैठा राख़ में,

कहा उसने, हर इंसान, जानवर भी इसे पहने,

कोई इंसान कुछ न चखे, बस ईश्वर से विनती करे दिल से।

राजा ने की घोषणा सभी फिरेंगे अपने बुरे कर्मों से, अपनी हिंसा को त्यागेंगे।

नीनवे के राजा ने किया बहुत पश्चाताप,

किया वो जो एक राजा को करना चाहिए।

उसके किए काम किसी भी राजा के लिए मुश्किल थे,

अनसुने थे इंसानी इतिहास में।

वे योग्य हैं कीर्तिगान के, इंसान के अनुकरण के।

2

जबसे इंसान जग में आया,

सभी राजाओं ने अपनी प्रजा से ईश्वर का विरोध करवाया।

किसी ने उन्हें न सिखाया ईश्वर से

याचना करना कि बचाए वो उन्हें बुराई से, माफ़ करे उन्हें, दंड से दूर रखे।

लेकिन नीनवे का राजा प्रजा को ले गया ईश्वर तक,

छुड़वाये उनसे हिंसा और बुरे तौर-तरीक़े।

उसने त्याग दिया अपना तख़्त, इसलिए ईश्वर ने अपना क्रोध छोड़ दिया,

और सभी तबाही से बच गए।

नीनवे के राजा ने किया बहुत पश्चाताप,

किया वो जो एक राजा को करना चाहिए।

उसके किए काम किसी भी राजा के लिए मुश्किल थे,

अनसुने थे इंसानी इतिहास में।

वे योग्य हैं कीर्तिगान के, इंसान के अनुकरण के।

3

इतिहास में ये कैसा चमत्कार!

राजा ने जैसे किया, वही है तरीका जिससे ईश्वर के सामने इंसान को

करना चाहिए पाप-स्वीकार और पछतावा।

नीनवे के राजा ने किया बहुत पश्चाताप,

किया वो जो एक राजा को करना चाहिए।

उसके किए काम किसी भी राजा के लिए मुश्किल थे,

अनसुने थे इंसानी इतिहास में।

वे योग्य हैं कीर्तिगान के, इंसान के अनुकरण के।

— "वचन देह में प्रकट होता है" में 'स्वयं परमेश्वर, जो अद्वितीय है II' से रूपांतरित

पिछला: 278 कोई ताकत आड़े आ नहीं सकती उस लक्ष्य के जो हासिल करना चाहता है परमेश्वर

अगला: 280 एकमात्र परमेश्वर का प्रभुत्व है इंसान की नियति पर

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

1समझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग, सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के...

सेटिंग

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें