301 मैं रखूँगा दिल में तुझे, हमेशा के लिए

1

तू मेरे साथ है, हर एक मौसम में।

देख तेरा तनहा ये रुख, दिल में उठता है ग़मों का सैलाब।

मैंने बांटा कभी ना ग़म तेरा, और न जाना तेरी तन्हाई।

सुनकर भी तेरी गुज़ारिश हर बार, मैं हूँ ज़िद से भरा।

सदा दुखाता हूँ दिल, और करता हूँ नाउम्मीद।

सिर्फ पाकर ही सज़ा, सिर्फ पाकर ही सज़ा।

तेरे संग रहकर भी, नहीं हूँ सच्चा हमसफ़र।

नहीं मुझमें अहसास कोई, ना मैं समझा, तेरी मुश्किलें।

2

हवस-ओ-ख्वाहिश के लिए, भूला नीति और सच्चाई भी।

और पछताया जब, तेरा दिल तोड़ चुका था मैं।

मुझे ग़म का भी अहसास नहीं, तेरे दर्द के गहराई की।

बदी के दर्द से कराहते, फैलाये लालची हाथ भीख के लिए।

किसमें है ज़मीर और अहसास कि बाँट ले, परेशानी तेरी?

तू है सबसे रहमदिल, प्यार है अनमोल और सच।

कौन है सुन्दर तुमसे भी, और तुमसे बढ़कर सम्मानित!

तेरे संग-संग मैं रहूँ सदा, बन जाऊं तेरी परछाईं।

तेरे संग-संग मैं रहूँ सदा, बन जाऊं तेरी परछाईं।

तू है सबसे रहमदिल, प्यार है अनमोल और सच।

कौन है सुन्दर तुमसे भी, और तुमसे बढ़कर सम्मानित!

तेरे संग-संग मैं रहूँ सदा, बन जाऊं तेरी परछाईं।

तेरे संग-संग मैं रहूँ सदा, बन जाऊं तेरी परछाईं।

ख़ुशी और सुख सदा, तेरे चेहरे पर दिखे।

मेरा दिल तेरा आशियाँ, हो सदा के लिए।

ख़ुशी और सुख सदा, तेरे चेहरे पर दिखे।

मेरा दिल तेरा आशियाँ, हो सदा के लिए।

रहे मेरे दिल में तू, सदा के लिए।

पिछला: 299 परमेश्वर के शुभ समाचार की प्रतीक्षा में

अगला: 302 पा नहीं सकते थाह परमेश्वर के कार्यों की

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

संबंधित सामग्री

610 प्रभु यीशु का अनुकरण करो

1पूरा किया परमेश्वर के आदेश को यीशु ने, हर इंसान के छुटकारे के काम को,क्योंकि उसने परमेश्वर की इच्छा की परवाह की,इसमें न उसका स्वार्थ था, न...

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

1समझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग, सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के...

सेटिंग

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें