531 मनुष्य को बचाना बहुत मुश्किल है

ऐसा कोई भी नहीं है जो जीवन भर इस मार्ग पर चलने, जीवन को पाने और परमेश्वर को समझने के लिए सत्य की खोज करने और अंततः पतरस के समान सार्थक जीवन जीने की योजना बनाता हो। इस तरह, जीवन के मार्ग पर, लोग अपने रास्ते से भटक जाते हैं, उनके दिलों में परमेश्वर के लिए कोई जगह नहीं रहती और पवित्र आत्मा उनके अंदर कार्य करना बंद कर देता है। ऐसे लोगों ने प्रतिगमन के मार्ग पर कदम रख दिया है। उन लोगों ने जितना भी कष्ट उठाया हो, जितने भी उपदेश सुने हों, कई सालों से परमेश्वर के अनुयायी रहे हों—सब कुछ बेकार चला गया। यह बहुत ही ख़तरनाक स्थिति है! नीचे उतरना आसान होता है, लेकिन सही मार्ग पर चलना और उस मार्ग को चुनना मुश्किल होता है जिस पर पतरस चला था। ज़्यादातर लोग उलझे हुए होते हैं! वे सही मार्ग और गलत मार्ग में अंतर नहीं कर सकते। इतने सारे उपदेशों को सुनने और परमेश्वर के इतने सारे वचनों को पढ़ने के बाद, वे जानते हैं कि वह परमेश्वर है लेकिन फिर भी उस पर विश्वास नहीं करते; वे जानते हैं कि यह सही मार्ग है, लेकिन फिर भी इस पर नहीं चलते। लोगों का उद्धार करना कितना मुश्किल है!

— "अंत के दिनों के मसीह की बातचीत के अभिलेख" में 'सर्वाधिक जोख़िम उन्हें है जिन्होंने पवित्र आत्मा का कार्य गँवा दिया है' से रूपांतरित

पिछला: 530 परमेश्वर के लिए मनुष्य का हठ और बार-बार वही अपराध करना सबसे घृणित है

अगला: 532 हटा दिया जाएगा उन्हें जो नहीं करते परमेश्वर के वचनों का अभ्यास

सभी विश्वासी यीशु मसीह की वापसी के लिए तरस रहे हैं। क्या आप उनमें से एक हैं? हमारी ऑनलाइन सहभागिता में शामिल हों और आपको परमेश्वर से फिर से मिलने का अवसर मिलेगा।

संबंधित सामग्री

610 प्रभु यीशु का अनुकरण करो

1पूरा किया परमेश्वर के आदेश को यीशु ने, हर इंसान के छुटकारे के काम को,क्योंकि उसने परमेश्वर की इच्छा की परवाह की,इसमें न उसका स्वार्थ था, न...

सेटिंग

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें