सत्य को खोजने वाले सभी लोगों का हम से सम्पर्क करने का स्वागत करते हैं

मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना

ठोस रंग

विषय-वस्तुएँ

फॉन्ट

फॉन्ट का आकार

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

0 खोज परिणाम

कोई परिणाम नहीं मिला

`

परमेश्वर ने किया है अपने पूर्ण स्वभाव को मनुष्य के सामने प्रकट

I

परमेश्वर के आत्मा ने किए महान काम जब से बनाई गई यह दुनिया।

विभिन्न देशों में, विभिन्न युगों में,

उसने किए हैं विभिन्न कार्य।

हर युग के लोग देखते हैं उसके विभिन्न स्वभाव

जो होते हैं प्राकृतिक रूप से प्रकट सभी लोगों के देखने के लिए

और नज़र आते हैं उसके विभिन्न कार्यों में।

वो है परमेश्वर, दया से भरपूर, स्नेह भरी करूणा से भरपूर।

वो है मनुष्य की पापबलि और उसका चरवाहा भी।

फिर भी, वो देता है न्याय, शाप, और ताड़ना।

मनुष्य पर एक अभिशाप।

फिर भी, वो देता है न्याय, शाप, और ताड़ना।

मनुष्य पर एक अभिशाप।

II

दो हज़ार वर्षों से भी ज़्यादा

वो पृथ्वी पर मनुष्य की कर सकता अगुवाई

और पाप से कर सकता दूषित मनुष्य को मुक्त।

वह विजय प्राप्त कर सकता है सभी मनुष्य पर, जो नहीं जानते उसे।

वो कर सकता है उन्हें अधीन, ताकि सब झुके उसके समक्ष।

अंत में, वो जला देगा मैल और अधार्मिकता को

दुनिया के हर मनुष्य में।

फिर, देख पाएगा मनुष्य उसकी पवित्रता और चमत्कार को,

वो है परमेश्वर जो करता है हर मनुष्य का न्याय।

वो है परमेश्वर, दया से भरपूर, स्नेह भरी करूणा से भरपूर।

वो है मनुष्य की पापबलि और उसका चरवाहा भी।

फिर भी, वो देता है न्याय, शाप, और ताड़ना।

मनुष्य पर एक अभिशाप।

फिर भी, वो देता है न्याय, शाप, और ताड़ना।

मनुष्य पर एक अभिशाप।

III

मानवता की दुष्टता के लिए वो है एक जलती आग,

वो है मनुष्य के पापों के लिए न्याय, और दे सकता है सज़ा।

जिन्हें किया जाना है पूर्ण,

उन्हें देता है वो क्लेश और परिक्षण,

संभालता और अनावश्यक हिस्सा हटाता हुआ,

साथ ही वो है सांत्वना, संपोषण और वचन का प्रदाता।

जिन्हें हटा दिया गया है,

उनके लिए है वो दंड और उनके गुनाहों की सज़ा।

वो है परमेश्वर, दया से भरपूर, स्नेह भरी करूणा से भरपूर।

वो है मनुष्य की पापबलि और उसका चरवाहा भी।

फिर भी, वो देता है न्याय, शाप, और ताड़ना।

मनुष्य पर एक अभिशाप।

फिर भी, वो देता है न्याय, शाप, और ताड़ना।

मनुष्य पर एक अभिशाप।

"वचन देह में प्रकट होता है" से

पिछला:देहधारी परमेश्वर में दिव्यता का सार होना चाहिए

अगला:परमेश्वर धर्मी है सभी के लिये

शायद आपको पसंद आये