219 तुम जो सयाने हो, जल्दी से जाग उठो

1 लोगों के लिए पवित्र आत्मा के वर्तमान कार्य की कल्पना करना वास्तव में कठिन है और सब वास्तविकता में प्रवेश करता है; इस बारे में विचारहीन होने से नहीं चलेगा। यदि तुम्हारा दिल और मस्तिष्क गलत जगह हैं, तो तुम्हारे पास आगे बढ़ने का कोई रास्ता नहीं होगा। शुरुआत से लेकर अंत तक, तुम्हें हर समय चौकन्ना रहना होगा और लापरवाही से स्वयं को बचाकर रखना होगा। धन्य हैं वे लोग जो लगातार चौकन्ने रहते हैं और प्रतीक्षा करते हैं और मेरे सामने शांत रहते हैं! धन्य हैं वे लोग जो लगातार दिल से मेरी ओर देखते हैं, जो मेरी आवाज़ को निकटता से सुनने पर ध्यान देते हैं, जो मेरे कार्यों पर ध्यान देते हैं और जो मेरे वचनों को अभ्यास में लाते हैं! सही में और देरी नहीं सही जा सकती है; सभी प्रकार की महामारियां तेज़ी से फैलेंगी, एक बाढ़ की तरह तुम लोगों को निगलने के लिए अपना क्रूर, मुँह खोलेंगी। समय आ गया है! अब सोचने के लिए समय नहीं बचा है। एकमात्र तरीका जो तुम लोगों को मेरी सुरक्षा में लाएगा, वह है मेरे सामने वापस आना।

2 जो लोग होशियार हैं, वे जल्दी से सच को पहचान जाएंगे! उन सभी चीज़ों को त्याग दो, जिन्हें तुम छोड़ने के इच्छुक नहीं हो। ये चीज़ें वास्तव में तुम्हारे जीवन के लिए हानिकारक हैं और इनका कोई लाभ नहीं है! मुझे उम्मीद है कि तुम अपने कार्यों में मुझ पर भरोसा कर पाओगे; अन्यथा आगे एकमात्र रास्ता मृत्यु का मार्ग है-फिर कहां तुम जीवन के मार्ग की खोज करने के लिए जाओगे? अपने उस दिल को पीछे खींच लो जो बाहरी चीज़ों के साथ व्यस्त रहना पसंद करता है! अपने उस दिल को पीछे खींच लो जो अन्य लोगों की अवज्ञा करता है! पवित्र आत्मा का वर्तमान कार्य अब वैसा नहीं है जैसा तुम सोचते हो। यदि तुम अपनी धारणाओं को छोड़ नहीं पाते हो, तो तुम्हें बड़ी हानि सहन करनी होगी। यदि कार्य मनुष्यों की धारणाओं को ध्यान में रखते हुए होता, तो क्या तुम्हारी पुरानी प्रकृति और धारणाएं प्रकाश में आ पातीं? क्या तुम अपने आप को जान पाते? हो सकता है कि तुम्हें अभी भी लगता हो कि तुम्हारी कोई धारणाएं नहीं हैं, लेकिन इस बार तुम्हारे विभिन्न बदसूरत पहलू स्पष्टता से प्रकाश में आएंगे।

— "वचन देह में प्रकट होता है" में 'आरंभ में मसीह के कथन' के 'अध्याय 14' से रूपांतरित

पिछला: 218 अंत तक अनुसरण करने के लिये आत्मा के कार्य का पालन करो

अगला: 220 विश्वासियों को ध्यान से ईश्वर के पदचिह्नों का अनुसरण करना ही चाहिए

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

1समझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग, सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के...

सेटिंग

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें