14 पूरब में प्रकट होते अंत के दिनों के मसीह

1

प्रकट होती अंधेरी धरती पर एक महान रोशनी।

निकल चुकी है अब चमकती पूर्वी बिजली।

ये मनुष्य के पुत्र का है आगमन।

कैसे न करें इस सत्य का हम गायन?

तुम हो व्यवहारिक देहधारी परमेश्वर।

तुम लौटकर आए, हमारे अंत के दिनों के रक्षक हो!

हम ऊँचे स्वर में गायन करते तुम्हारा,

तुम लौटकर आए,

हमारे अंत के दिनों के रक्षक हो!

सब तुम्हारे पवित्र नाम की स्तुति करते।

पूरब से पश्चिम तक गूँजता ये;

सूरज हो तुम चमकते।

राज्य को हासिल कर, आये हो तुम धरती पे।

उतर आया मसीह का राज्य धरती पर।

उतर आया मसीह का राज्य धरती पर।

2

विजयी राजा विराजमान होता सिंहासन पर।

लौट आये हो देह में, छुटकारे को सफल कर।

परमेश्वर के घर से न्याय शुरू होता है।

अंत के दिनों का न्याय अब शुरू हो चुका।

तुम से व्यक्त सत्य, पूरी धरती पर फैलता।

सभी देश, सभी जन तुम्हारी ओर मुड़ते हैं!

राज्य आ गया है धरती पर।

सभी देश, सभी जन तुम्हारी ओर मुड़ते हैं!

सब तुम्हारे पवित्र नाम की स्तुति करते।

पूरब से पश्चिम तक गूँजता ये;

सूरज हो तुम चमकते।

राज्य को हासिल कर, आये हो तुम धरती पे।

उतर आया मसीह का राज्य धरती पर।

उतर आया मसीह का राज्य धरती पर।

3

हे देहधारी, व्यवहारिक परमेश्वर,

तुम वचन बोलते, कलीसिया में आते।

है प्रेम तुम्हारा साथ हमारे।

अपने जनों को सींचते, विजेता बनाते!

राज्य का सुसमाचार पूरी धरती पर फैलता है।

समय न गँवाओ, परमेश्वर के पदचिह्नों पर चलो।

पूरी शक्ति से खोजें हम, ताकि पीछे ना छूटें।

समय न गँवाओ, परमेश्वर के पदचिह्नों पर चलो।

सब तुम्हारे पवित्र नाम की स्तुति करते।

पूरब से पश्चिम तक गूँजता ये; सूरज हो तुम चमकते।

राज्य को हासिल कर, आये हो तुम धरती पे।

उतर आया मसीह का राज्य धरती पर।

उतर आया मसीह का राज्य धरती पर।

4

अंत के दिनों का मसीह विजयी हुआ।

बहुत शर्मिंदा है शैतान, बड़ा लाल अजगर।

लौट आये मौत से सभी युगों के संत,

दे रहे हैं गवाही ईश्वर की विजय की।

सर्वशक्तिमान परमेश्वर, तुमने शैतान को हराया!

सर्वशक्तिमान परमेश्वर, पायी महिमा तुमने!

हो चुका है पूरा महान कार्य तुम्हारा।

सर्वशक्तिमान परमेश्वर, पायी महिमा तुमने!

हम स्तुति करें, नाचें-गायें तुम्हारे लिये।

सब-कुछ हासिल करते वचन तुम्हारे,

दर्शाते शक्तिमत्ता तुम्हारी!

सर्वशक्तिमान परमेश्वर हम नाचें-गायें तुम्हारे लिये।

सब-कुछ हासिल करते वचन तुम्हारे,

दर्शाते शक्तिमत्ता तुम्हारी!

सब-कुछ हासिल करते वचन तुम्हारे!

सब तुम्हारे पवित्र नाम की स्तुति करते।

पूरब से पश्चिम तक गूँजता ये;

सूरज हो तुम चमकते।

राज्य को हासिल कर, आये हो तुम धरती पे।

उतर आया मसीह का राज्य धरती पर।

उतर आया मसीह का राज्य धरती पर।

उतर आया मसीह का राज्य धरती पर।

उतर आया मसीह का राज्य धरती पर।

पिछला: 13 एकमात्र सच्चा परमेश्वर हुआ है प्रकट देह में

अगला: 15 धार्मिक, सर्वशक्तिमान और व्यावहारिक परमेश्वर

परमेश्वर का आशीष आपके पास आएगा! हमसे संपर्क करने के लिए बटन पर क्लिक करके, आपको प्रभु की वापसी का शुभ समाचार मिलेगा, और 2023 में उनका स्वागत करने का अवसर मिलेगा।

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

1समझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग, सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के...

सेटिंग

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें