455 जिनमें है कार्य पवित्रात्मा का वही किये जा सकते हैं पूर्ण

I

परिस्थितियाँ हो रही हैं बेहतर कुछ लोगों के लिए।

जितना पवित्रात्मा काम करता है उतने ही वे आत्मविश्वास में रहते हैं।

वे जितना अधिक करते हैं अनुभव, उतना अधिक वे महसूस करते हैं

परमेश्वर के कार्य का गहरा रहस्य।

परमेश्वर करता है अपना कार्य मानव के सत्य की प्राप्ति के लिए।

तुम्हारे जीवन का लक्ष्य है उसकी पूर्णता की खातिर,

ताकि एक दिन तुम बनोगे योग्य उसके उपयोग के लिए।

II

जितने गहराई में जाते हैं वे, उतना अधिक समझ पाते हैं,

प्रबुद्ध और स्थिर, परमेश्वर का प्रेम महसूस करते हुये।

उनको प्राप्त हुआ है ज्ञान परमेश्वर के कार्य का।

ये हैं वो लोग जिन पर कार्य पवित्र आत्मा करता है।

परमेश्वर करता है अपना कार्य मानव के सत्य की प्राप्ति के लिए।

तुम्हारे जीवन का लक्ष्य है उसकी पूर्णता की खातिर,

ताकि एक दिन तुम बनोगे योग्य उसके उपयोग के लिए।

III

परमेश्वर की साक्षी देना और उसकी इच्छा को संतुष्ट करना

मानव का उसके वचन के अनुसरण करने की इच्छा पर है निर्भर।

परमेश्वर की साक्षी देना और उसकी इच्छा को संतुष्ट करना

मानव का उसके वचन के अनुसरण करने की इच्छा पर है निर्भर।

परमेश्वर करता है अपना कार्य मानव के सत्य की प्राप्ति के लिए।

तुम्हारे जीवन का लक्ष्य है उसकी पूर्णता की खातिर,

परमेश्वर करता है अपना कार्य मानव के सत्य की प्राप्ति के लिए।

तुम्हारे जीवन का लक्ष्य है उसकी पूर्णता की खातिर,

ताकि एक दिन तुम बनोगे योग्य उसके उपयोग के लिए।

"वचन देह में प्रकट होता है" से

पिछला: 454 पवित्र आत्मा ज़्यादा कार्य करता है उनमें, पूर्ण किये जाने की तड़प है जिनमें

अगला: 456 पवित्र आत्मा के कार्य को अपने प्रवेश में लेकर चलो

अब बड़ी-बड़ी विपत्तियाँ आ रही हैं और वह दिन निकट है जब परमेश्वर भलाई का प्रतिफल देगें और बुराई को दण्ड देंगे। हमें एक सुंदर गंतव्य कैसे मिल सकता है?

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

Iसमझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग,सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के लिए...

वचन देह में प्रकट होता है न्याय परमेश्वर के घर से शुरू होता है अंत के दिनों के मसीह, सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अत्यावश्यक वचन परमेश्वर के दैनिक वचन परमेश्वर का आगमन हो चुका है, वह राजा है सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों का संकलन सत्य का अभ्यास करने के 170 सिद्धांत मेमने का अनुसरण करो और नए गीत गाओ राज्य का सुसमाचार फ़ैलाने के लिए दिशानिर्देश परमेश्वर की भेड़ें परमेश्वर की आवाज को सुनती हैं परमेश्वर की आवाज़ सुनो परमेश्वर के प्रकटन को देखो राज्य के सुसमाचार पर अत्यावश्यक प्रश्न और उत्तर मसीह के न्याय के आसन के समक्ष अनुभवों की गवाहियाँ विजेताओं की गवाहियाँ मैं वापस सर्वशक्तिमान परमेश्वर के पास कैसे गया

सेटिंग्स

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें