247 मसीह के साथ अनुकूलता का तरीका खोजो

1

फ़रीसियों ने यीशु पर पुराने

नियमों की अवज्ञा का आरोप लगाया,

और कहा वो मसीहा नहीं है।

वो दोषी न था फिर भी, उसे सूली पर चढ़ाया।

सत्य व्यक्त करने मसीह वापस आया है,

पर इंसान स्वर्ग पहुँचने और अनुग्रह पाने के लिए

उसे दुनिया से निकाल देगा।

इंसान सत्य को नकार देगा और बाइबल के बचाव में

उसे फिर सूली पर चढ़ा देगा।

जब इंसान के दिल में द्वेष हो,

वो प्रकृति से ईश-विरोधी हो,

तो वो उद्धार कैसे पा सके?

खोजो तरीका मसीह के साथ अनुकूलता का।

2

ईश्वर इंसानों के साथ रहे, पर वो इससे अनजान है।

ईश्वर का प्रकाश उस पर चमके मगर,

इंसान ईश्वर के अस्तित्व से बेख़बर बना रहे।

जब ईश्वर इंसान पर अपना रोष बरसाए,

तो इंसान उसे और ज़्यादा नकारे।

इंसान शब्दों और बाइबल के साथ

अनुकूलता पाने के लिए तरीका खोजता रहे,

पर एक भी इंसान ईश्वर के सामने न आए,

सत्य के साथ अनुकूलता न खोजे।

इंसान स्वर्ग के ईश्वर का आदर करे

पर देहधारी ईश्वर को अनदेखा करे,

क्योंकि वो जो इंसानों के साथ रहे,

बहुत ही मामूली है।

खोजो तरीका मसीह के साथ अनुकूलता का।

3

जो केवल बाइबल और अज्ञात

ईश्वर के साथ अनुकूलता खोजें,

ईश्वर उन्हें घृणित समझे,

क्योंकि वे बेजान शब्दों को,

अस्तित्वहीन ईश्वर को पूजते,

जो खज़ाना दे और लोगों की दया पर रहे।

तो फिर, वे ईश्वर से क्या पा सकें?

इंसान की नीचता शब्दों से परे है।

जो ईश-विरोधी हैं, जिनकी बेशुमार माँगें हैं,

जो सत्य-प्रेमी नहीं हैं,

क्या वे ईश्वर के अनुकूल हो सकते हैं?

खोजो तरीका मसीह के साथ अनुकूलता का।

— "वचन देह में प्रकट होता है" में 'तुम्हें मसीह के साथ अनुकूलता का तरीका खोजना चाहिए' से रूपांतरित

पिछला: 246 परमेश्वर चाहे ज़्यादा लोग उससे उद्धार पाएँ

अगला: 248 परमेश्वर द्वारा लोगों की निंदा का आधार

अब बड़ी-बड़ी विपत्तियाँ आ रही हैं और वह दिन निकट है जब परमेश्वर भलाई का प्रतिफल देगें और बुराई को दण्ड देंगे। हमें एक सुंदर गंतव्य कैसे मिल सकता है?

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

1समझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग, सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के...

610 प्रभु यीशु का अनुकरण करो

1पूरा किया परमेश्वर के आदेश को यीशु ने, हर इंसान के छुटकारे के काम को,क्योंकि उसने परमेश्वर की इच्छा की परवाह की,इसमें न उसका स्वार्थ था, न...

वचन देह में प्रकट होता है न्याय परमेश्वर के घर से शुरू होता है अंत के दिनों के मसीह, सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अत्यावश्यक वचन परमेश्वर के दैनिक वचन परमेश्वर का आगमन हो चुका है, वह राजा है सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों का संकलन सत्य का अभ्यास करने के 170 सिद्धांत मेमने का अनुसरण करो और नए गीत गाओ राज्य का सुसमाचार फ़ैलाने के लिए दिशानिर्देश परमेश्वर की भेड़ें परमेश्वर की आवाज को सुनती हैं परमेश्वर की आवाज़ सुनो परमेश्वर के प्रकटन को देखो राज्य के सुसमाचार पर अत्यावश्यक प्रश्न और उत्तर मसीह के न्याय के आसन के समक्ष अनुभवों की गवाहियाँ विजेताओं की गवाहियाँ मैं वापस सर्वशक्तिमान परमेश्वर के पास कैसे गया

सेटिंग्स

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें