833 पूर्ण किए जाने के लिए जो अपेक्षित है

1

अगर तुम ईश्वर द्वारा पूर्ण किए जाना चाहते हो,

तो तुम में देह-सुख को त्यागने की हिम्मत होगी,

तुम ईश-वचनों का पालन करोगे, निष्क्रिय और कमज़ोर नहीं होगे,

ईश्वर की हर बात का पालन करोगे।

अकेले में या सबके सामने जो कुछ तुम करते हो,

वो ईश्वर को प्रस्तुत करने योग्य होगा।

हर काम ईश्वर-प्रेमी दिल से करना

ईश्वर द्वारा पूर्ण किए जाने की आवश्यकता है।

अगर इरादे सही हैं तुम्हारे, फिर चाहे तुम सही हो या गलत,

ईश्वर के सामने लाए जा सकते हैं सारे काम तुम्हारे।

उन्हें ईश्वर को या भाई-बहनों को दिखाने में, तुम डरते नहीं हो,

तुम ईश्वर के आगे शपथ लेने का साहस रखते हो।

2

अगर तुम ईमानदार हो, सत्य पर अमल करते हो,

तो तुम पूर्ण किए जाओगे।

दोमुँहे लोग पूर्ण नहीं होना चाहते।

वे लोग नरक और तबाही के पुत्र हैं,

ईश्वर के नहीं, शैतान के हैं, उन्हें ईश्वर ने नहीं चुना है!

अगर तुम उसका न्याय स्वीकार लो, अपना स्वभाव बदल लो,

तो तुम ईश्वर द्वारा पूर्ण किए जाने के मार्ग पर होगे।

हर काम ईश्वर-प्रेमी दिल से करना

ईश्वर द्वारा पूर्ण किए जाने की आवश्यकता है।

अगर इरादे सही हैं तुम्हारे, फिर चाहे तुम सही हो या गलत,

ईश्वर के सामने लाए जा सकते हैं सारे काम तुम्हारे।

उन्हें ईश्वर को या भाई-बहनों को दिखाने में,

तुम डरते नहीं हो, तुम ईश्वर के आगे शपथ लेने का साहस रखते हो।

3

अगर तुम सचमुच ईश्वर द्वारा पूर्ण किए जाना चाहते हो,

उसकी इच्छा-पूर्ति चाहते हो, तो ईश्वर के काम का पालन करो,

कभी शिकायत या ईश्वर के काम की परख न करो।

ईश्वर द्वारा पूर्ण किए जाने की ये बुनियादी आवश्यकताएँ हैं।

हर काम ईश्वर-प्रेमी दिल से करना

ईश्वर द्वारा पूर्ण किए जाने की आवश्यकता है।

अगर इरादे सही हैं तुम्हारे, फिर चाहे तुम सही हो या गलत,

ईश्वर के सामने लाए जा सकते हैं सारे काम तुम्हारे।

उन्हें ईश्वर को या भाई-बहनों को दिखाने में, तुम डरते नहीं हो,

तुम ईश्वर के आगे शपथ लेने का साहस रखते हो। हे ईश्वर!

हर इरादा, विचार और ख़्याल

ईश्वर की मौजूदगी में जाँच किए जाने लायक हो।

अगर तुम इसी तरह से अभ्यास करो, प्रवेश करो,

तो जीवन में तेज़ी से तुम्हारी प्रगति होगी,

तो जीवन में तेज़ी से तुम्हारी प्रगति होगी।

— "वचन देह में प्रकट होता है" में 'जो सच्चे हृदय से परमेश्वर की आज्ञा का पालन करते हैं वे निश्चित रूप से परमेश्वर द्वारा हासिल किए जाएँगे' से रूपांतरित

पिछला: 832 लोगों के इस समूह को पूरा करने का संकल्प लिया है परमेश्वर ने

अगला: 834 परमेश्वर उन्हें पूर्ण बनाता है, जो उसे सच में प्रेम करते हैं

अब बड़ी-बड़ी विपत्तियाँ आ रही हैं और वह दिन निकट है जब परमेश्वर भलाई का प्रतिफल देगें और बुराई को दण्ड देंगे। हमें एक सुंदर गंतव्य कैसे मिल सकता है?

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

1समझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग, सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के...

वचन देह में प्रकट होता है न्याय परमेश्वर के घर से शुरू होता है अंत के दिनों के मसीह, सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अत्यावश्यक वचन परमेश्वर के दैनिक वचन परमेश्वर का आगमन हो चुका है, वह राजा है सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों का संकलन सत्य का अभ्यास करने के 170 सिद्धांत मेमने का अनुसरण करो और नए गीत गाओ राज्य का सुसमाचार फ़ैलाने के लिए दिशानिर्देश परमेश्वर की भेड़ें परमेश्वर की आवाज को सुनती हैं परमेश्वर की आवाज़ सुनो परमेश्वर के प्रकटन को देखो राज्य के सुसमाचार पर अत्यावश्यक प्रश्न और उत्तर मसीह के न्याय के आसन के समक्ष अनुभवों की गवाहियाँ विजेताओं की गवाहियाँ मैं वापस सर्वशक्तिमान परमेश्वर के पास कैसे गया

सेटिंग्स

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें