226 क्या त्रित्व का अस्तित्व है?

अगर तुम कहो कि त्रित्व मौजूद है,

तो समझाओ कि क्या है

"एक ईश्वर में तीन जनों" का होना।

क्या है पवित्र पिता? क्या है पुत्र?

कौन है पवित्रात्मा? क्या यहोवा है पवित्र पिता?

क्या यीशु है बेटा? तो कौन है पवित्रात्मा?

क्या पिता आत्मा नहीं? क्या बेटे का सार आत्मा नहीं?

क्या यीशु का काम पवित्रात्मा का काम नहीं था?

क्या यहोवा का काम भी आत्मा द्वारा नहीं किया गया

जैसे यीशु का काम आत्मा ने किया था?

ईश्वर में हो सकते कितने आत्मा?

तुम कहते, जो तीन जन हैं

पिता, पुत्र और आत्मा, वे एक हैं।

अगर ये सच है, तो हुए तीन आत्मा,

लेकिन "तीन आत्मा" का मतलब, हैं तीन ईश्वर।

यानी नहीं कोई एक सच्चा परमेश्वर।

ऐसे ईश्वर में ईश्वर का सहज सार कैसे हो सके?

अगर तुम मानते हो कि ईश्वर बस एक है,

तो कैसे हो सके वो पिता और उसका एक बेटा?

क्या ये तुम्हारी धारणाएँ नहीं?

ईश्वर एक है, उसमें एक ही जन है,

और ईश्वर का आत्मा भी बस एक है,

जैसा लिखा बाइबल में :

"एक ही पवित्रात्मा, एक ही ईश्वर है।"

पिता और पुत्र का अस्तित्व हो न हो,

ईश्वर बस एक ही है।

जिन तीनों को तुम मानते, उनका सार

पवित्रात्मा का सार है।

ईश्वर है आत्मा जो देह बन सके,

जिये इंसानों के बीच, हो सबसे ऊपर।

वो है हर जगह, सब कुछ है उसमें।

देह में रहते हुए वो भर सके पूरी कायनात।

ईश्वर एक है, उसमें एक ही जन है,

और ईश्वर का आत्मा भी बस एक है,

जैसा लिखा बाइबल में :

"एक ही पवित्रात्मा, एक ही ईश्वर है।"

सब कहते, है एक ही सच्चा ईश्वर,

तो है एक ही अखंड ईश्वर!

ईश्वर है एक ही आत्मा, एक जन,

और वो है आत्मा ईश्वर का।

— 'वचन देह में प्रकट होता है' से रूपांतरित

पिछला: 225 यीशु के प्रति फ़रीसियों के विरोध का मूल कारण

अगला: 227 क्या पूरी बाइबल ईश्वर की प्रेरणा से लिखी गयी है?

अब बड़ी-बड़ी विपत्तियाँ आ रही हैं और वह दिन निकट है जब परमेश्वर भलाई का प्रतिफल देगें और बुराई को दण्ड देंगे। हमें एक सुंदर गंतव्य कैसे मिल सकता है?

संबंधित सामग्री

610 प्रभु यीशु का अनुकरण करो

Iपूरा किया परमेश्वर के आदेश को यीशु ने,हर इंसान के छुटकारे के काम को,क्योंकि उसने परमेश्वर की इच्छा की परवाह की,इसमें न उसका स्वार्थ था, न...

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

Iसमझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग,सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के लिए...

वचन देह में प्रकट होता है न्याय परमेश्वर के घर से शुरू होता है अंत के दिनों के मसीह, सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अत्यावश्यक वचन परमेश्वर के दैनिक वचन परमेश्वर का आगमन हो चुका है, वह राजा है सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों का संकलन सत्य का अभ्यास करने के 170 सिद्धांत मेमने का अनुसरण करो और नए गीत गाओ राज्य का सुसमाचार फ़ैलाने के लिए दिशानिर्देश परमेश्वर की भेड़ें परमेश्वर की आवाज को सुनती हैं परमेश्वर की आवाज़ सुनो परमेश्वर के प्रकटन को देखो राज्य के सुसमाचार पर अत्यावश्यक प्रश्न और उत्तर मसीह के न्याय के आसन के समक्ष अनुभवों की गवाहियाँ विजेताओं की गवाहियाँ मैं वापस सर्वशक्तिमान परमेश्वर के पास कैसे गया

सेटिंग्स

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें