1020 परमेश्वर के सभी लोग अपनी भावनाओं को व्यक्त करते हैं

1

परमेश्वर का देश देखो शासन सबपे उसका।

सॄष्टि के आरंभ से आज के दिन तक,

परमेश्वर द्वारा मार्गदर्शित, उसके पुत्र, गुज़रे हैं कई कठिनाइयों से।

गुज़रे हैं कई उतार-चढ़ावों से। अब उसकी रोशनी में हैं वो रहते।

कौन है रोता नहीं कल के अन्याय पे?

किसके आँसू बहते नहीं मेहनत से जीती आज की ज़िंदगी के लिए?

कौन है जो चाहे नहीं परमेश्वर को दिल सौंप दे?

किसको अरमां नहीं जुनूं, तजुर्बे को बयाँ करे?

2

लोग परमेश्वर को देते सर्वश्रेष्ठ। कुछ अपनी ग़लती पर पछताए।

स्वयं से घृणा करते कुछ बीते कल के अपने लक्ष्यों के लिए।

खुद को पहचाना है उन्होंने, देखे हैं शैतान के काम परमेश्वर के चमत्कार।

परमेश्वर दिल में उनके रहता,

इंसान के बीच घृणा या त्याग का नहीं सामना करना पड़ेगा परमेश्वर को,

क्योंकि उसका काम हुआ है पूरा, उसके काम में है नहीं अब कोई भी बाधा।

कौन है रोता नहीं कल के अन्याय पे?

किसके आँसू बहते नहीं मेहनत से जीती आज की ज़िंदगी के लिए।

कौन है जो चाहे नहीं परमेश्वर को दिल सौंप दे?

किसको अरमां नहीं जुनूं, तजुर्बे को बयाँ करे?

— "वचन देह में प्रकट होता है" में 'संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के वचन' के 'अध्याय 18' से रूपांतरित

पिछला: 1019 परमेश्वर मानव जाति के लिए एक ज़्यादा सुंदर कल बनाता है

अगला: 1021 मानवजाति के लिए परमेश्वर की तैयारी कल्पना से परे है

सभी विश्वासी यीशु मसीह की वापसी के लिए तरस रहे हैं। क्या आप उनमें से एक हैं? हमारी ऑनलाइन सहभागिता में शामिल हों और आपको परमेश्वर से फिर से मिलने का अवसर मिलेगा।

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

1समझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग, सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के...

610 प्रभु यीशु का अनुकरण करो

1पूरा किया परमेश्वर के आदेश को यीशु ने, हर इंसान के छुटकारे के काम को,क्योंकि उसने परमेश्वर की इच्छा की परवाह की,इसमें न उसका स्वार्थ था, न...

सेटिंग

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें