998 परमेश्वर का संदेश

1

अतीत है बीत चुका, तुम्हें न चाहिए इससे चिपकना।

कल तुम अपनी आस्था में अटल थे।

अब परमेश्वर को अपनी निष्ठा दो।

ये वो है जो तुम्हें जानना चाहिए।

हालांकि ईश्वर दिखता नहीं,

परमेश्वर का आत्मा तुम सब को अनुग्रह प्रदान करेगा।

ईश्वर उम्मीद करता है कि तुम उसकी आशीषों को संजो के रखोगे,

और उनका उपयोग करोगे खुद को जानने में।

उन्हें अपनी पूंजी की तरह न मानो।

ईश्वर के वचनों से अपनी कमी को पूरा करो।

इससे प्राप्त करो सकारात्मक चीज़ों को।

और ये है वो संदेश जो ईश्वर देता है वसीयत में।


2

कल तुम सब को उसके लिए अच्छी गवाही देनी चाहिए।

भविष्य में तुम सब आशीषित होगे।

तुम विरासत में पाओगे आशीष।

ये वो है जो तुम्हें जानना चाहिए।

हालांकि ईश्वर दिखता नहीं,

परमेश्वर का आत्मा तुम सब को अनुग्रह प्रदान करेगा।

ईश्वर उम्मीद करता है कि तुम उसकी आशीषों को संजो के रखोगे,

और उनका उपयोग करोगे खुद को जानने में।

उन्हें अपनी पूंजी की तरह न मानो।

ईश्वर के वचनों से अपनी कमी को पूरा करो।

इससे प्राप्त करो सकारात्मक चीज़ों को।

ये है वो संदेश जो ईश्वर देता है वसीयत में।

ये है वो संदेश जो ईश्वर देता है वसीयत में।


—वचन, खंड 1, परमेश्वर का प्रकटन और कार्य, संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के वचन, अध्याय 7 से रूपांतरित

पिछला: 997 जब परमेश्वर चरवाहे पर प्रहार करता है

अगला: 999 जो सत्य का अभ्यास नहीं करते वे नष्ट किए जाएंगे

परमेश्वर का आशीष आपके पास आएगा! हमसे संपर्क करने के लिए बटन पर क्लिक करके, आपको प्रभु की वापसी का शुभ समाचार मिलेगा, और 2024 में उनका स्वागत करने का अवसर मिलेगा।

संबंधित सामग्री

775 तुम्हारी पीड़ा जितनी भी हो ज़्यादा, परमेश्वर को प्रेम करने का करो प्रयास

1समझना चाहिये तुम्हें कितना बहुमूल्य है आज कार्य परमेश्वर का।जानते नहीं ये बात ज़्यादातर लोग, सोचते हैं कि पीड़ा है बेकार:अपने विश्वास के...

सेटिंग

  • इबारत
  • कथ्य

ठोस रंग

कथ्य

फ़ॉन्ट

फ़ॉन्ट आकार

लाइन स्पेस

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

विषय-वस्तु

खोज

  • यह पाठ चुनें
  • यह किताब चुनें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें