Hindi Christian Movie "बाइबल के बारे में रहस्य का खुलासा" अंश 5 : क्या हम बाइबल में विश्वास कर जीवन पा सकते हैं?

11 सितम्बर, 2018

पादरी और एल्डर्स अक्सर लोगों को सिखाते हैं कि अगर वे बाइबल से भटकते हैं तो उन्हें विश्वासी नहीं कहा जा सकता, और सिर्फ़ बाइबल से जुड़े रहकर ही वे जीवन पा सकते हैं और स्वर्ग के राज्य में प्रवेश कर सकते हैं। क्या यह दृष्टिकोण परमेश्वर की इच्छा के अनुरूप है? क्या वह बाइबल है जो हमें जीवन दे सकती है, या वे परमेश्वर हैं जो हमें जीवन दे सकते हैं? प्रभु यीशु ने कहा था, "तुम पवित्रशास्त्र में ढूँढ़ते हो, क्योंकि समझते हो कि उसमें अनन्त जीवन तुम्हें मिलता है; और यह वही है जो मेरी गवाही देता है; फिर भी तुम जीवन पाने के लिये मेरे पास आना नहीं चाहते" (यूहन्ना 5:39-40)। सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते हैं, "अंत के दिनों का मसीह जीवन लेकर आता है, और सत्य का स्थायी और शाश्वत मार्ग लेकर आता है। यह सत्य वह मार्ग है जिसके द्वारा मनुष्य जीवन प्राप्त करता है, और यह एकमात्र मार्ग है जिसके द्वारा मनुष्य परमेश्वर को जानेगा और परमेश्वर द्वारा स्वीकृत किया जाएगा" (वचन देह में प्रकट होता है)। जीवन का स्रोत मसीह में है न कि बाइबल में। सिर्फ मसीह ही जीवन के स्रोत हैं, और वे ही बाइबल के प्रभु हैं। यह वीडियो बाइबल की एक नयी समझ हासिल करने में आपकी मदद करेगा!

और देखें

2022 के लिए एक खास तोहफा—प्रभु के आगमन का स्वागत करने और आपदाओं के दौरान परमेश्वर की सुरक्षा पाने का मौका। क्या आप अपने परिवार के साथ यह विशेष आशीष पाना चाहते हैं?

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें