Hindi Christian Testimony Video | निपटान के बाद आत्मचिंतन | True Story of a Christian

19 दिसम्बर, 2021

अगुआ के दिल में अपनी छवि की रक्षा और उनकी स्वीकृति पाने के प्रयास में मुख्य किरदार सिर्फ ध्यान-आकर्षित करने वाले काम ही करती है; कलीसिया के काम के बाकी पहलुओं में वह लापरवाह रहती है और उनमें अपना दिल नहीं लगाती। इससे एक गंभीर त्रुटि हो जाती है—एक भाई जोकि एक सच्चा विश्वासी है और कलीसिया के कार्य को बनाए रखता है, उसे गलत तरीके से बाहर निकाल दिया जाता है। इसके लिए मुख्य किरदार की सख्ती से काट–छाँट कर निपटान किया जाता है। इन सबके बीच, वह आत्मचिंतन कैसे करती है, और वह अपने बारे में क्या जान पाती है? इससे उसे क्या हासिल होता है? आइए, उसकी कहानी सुनें।

और देखें

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें