2020 Hindi Christian Song | परमेश्वर के शुद्धिकरण के कार्य का उद्देश्य

15 जून, 2020

शुद्धिकरण आसान नहीं किसी के लिए,

बहुत मुश्किल है इस प्रक्रिया को स्वीकारना।

शुद्धिकरण में इंसान को ईश्वर मगर

अपना धार्मिक स्वभाव दिखाए;

प्रबोधन प्रदान करे, अपनी अपेक्षा बताए,

और अधिक काट-छाँट,

व्यवहार मुहैया कराए।

शुद्धिकरण का अर्थ नहीं लोगों को ईश्वर के आगे से हटाना,

न उन्हें नरक में मिटाना।

इसके मायने हैं बदलना इंसान के स्वभाव को,

इरादों, पुराने विचारों को,

उसके ईश्वर-प्रेम को बदलना है,

और उसके पूरे जीवन को बदलना है,

जीवन को बदलना है।

तथ्यों और सत्यों की तुलना करके,

ईश्वर इंसान को देता है ज़्यादा ज्ञान,

सत्य, ईश-इच्छा और इंसान के बारे में,

ताकि इंसान ईश्वर का सच्चा, शुद्ध प्रेम पाए।

ये लक्ष्य हैं ईश्वर के

शुद्धिकरण करने के।

शुद्धिकरण का अर्थ नहीं लोगों को ईश्वर के आगे से हटाना,

न उन्हें नरक में मिटाना।

इसके मायने हैं बदलना इंसान के स्वभाव को,

इरादों, पुराने विचारों को,

उसके ईश्वर-प्रेम को बदलना है,

और उसके पूरे जीवन को बदलना है,

जीवन को बदलना है।

इंसान पर सभी कार्यों का उद्देश्य और महत्व है।

ईश्वर का कार्य कभी निरर्थक नहीं।

ये सदा इंसान का हित करे।

शुद्धिकरण इम्तहान है इंसान का,

एक रूप है असली तालीम का।

शुद्धिकरण से ही उसका प्रेम कर सके अपना काम।

शुद्धिकरण का अर्थ नहीं लोगों को ईश्वर के आगे से हटाना,

न उन्हें नरक में मिटाना।

इसके मायने हैं बदलना इंसान के स्वभाव को,

इरादों, पुराने विचारों को,

उसके ईश्वर-प्रेम को बदलना है,

और उसके पूरे जीवन को बदलना है,

जीवन को बदलना है।

"मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना" से

WhatsApp: +91-875-396-2907

और देखें

सभी विश्वासी यीशु मसीह की वापसी के लिए तरस रहे हैं। क्या आप उनमें से एक हैं? हमारी ऑनलाइन सहभागिता में शामिल हों और आपको परमेश्वर से फिर से मिलने का अवसर मिलेगा।

साझा करें

रद्द करें