Hindi Christian Movie "घर के भीतर और बाहर" | A Hard Choice Between His Family and the Truth

12 सितम्बर, 2022

ली मिंग्यी का पूरा परिवार परमेश्वर में विश्वास करता है; वह और उसकी छोटी बहन ली लैन पूरे उत्साह से परमेश्वर के लिए खुद को खपाते हैं। ली मिंग्यी दो सालों से दूसरे शहर में अपना कर्तव्य निभा रहा है, मगर अपने शहर लौटने पर उसे पता चलता है कि उसकी बहन नए विश्वासियों के सिंचन में अक्सर सिद्धांतों की बात करती है और अपने ओहदे से दूसरों को फटकारती है। इस उम्मीद में कि ली लैन सत्य की खोज करके अपनी समस्याओं को हल कर लेगी, ली मिंग्यी कई बार उसकी मदद करने की कोशिश करता है। लेकिन जल्दी ही, ली मिंग्यी और उसके सहकर्मियों को पता चलता है कि ली लैन ने सलाह देने वाले भाई-बहनों को दबाया और उनसे बदला लिया है; वे उसकी मदद करने के लिए उसे उसकी समस्याएँ बताते हैं, पर वह इसे बिल्कुल नहीं स्वीकारती। भाई-बहन ली लैन को पहचान जाते हैं और एक-एक करके उसकी समस्या की रिपोर्ट करते हैं, जिसकी वजह से ली मिंग्यी और उसके सहकर्मी सिद्धांतों के अनुसार उसे कर्तव्य से बर्खास्त कर देते हैं। मगर ली लैन इससे नाखुश होकर सभाओं में अगुआओं और उपयाजकों पर हमले करती है, उनकी आलोचना करती है, उन पर उसे दबाने के आरोप लगाती है, भाई-बहनों को गुमराह करती है, लोगों को अपनी तरफ खींचती है, और सभाओं में परमेश्वर के वचन पढ़ने के दौरान भाई-बहनों को परेशान करती है। ली मिंग्यी को एहसास होता है उसकी बहन एक कुकर्मी है और उसे निकाल दिया जाना चाहिए, लेकिन उसे डर है कि इससे उसके उद्धार का मौका छिन जाएगा, तो वह असमंजस में पड़ जाता है। क्या वह भावनाओं में बहकर अपनी बहन का बचाव करता है या सत्य के सिद्धांतों पर चलकर उसे निकाल देता है और कलीसिया के कार्य को कायम रखता है? जानने के लिए देखें यह फिल्म।

और देखें

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें