Hindi Christian Testimony Video | क्या पूरी बाइबल परमेश्वर द्वारा प्रेरित है?

04 अक्टूबर, 2022

इस कहानी के मुख्य किरदार ने प्रभु में विश्वास रखने के बाद से ही खुद को बड़े जोश से खपाया था। वह अक्सर बाइबल पढ़ता था और उसे यकीन था कि "पूरी बाइबल परमेश्वर द्वारा प्रेरित है, और परमेश्वर के सभी वचन इसमें निहित हैं। अगर हम परमेश्वर में विश्वास रखते हैं, तो बाइबल से दूर नहीं जा सकते। ऐसा करना विधर्म होगा।" लेकिन जब उसने सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया को गवाही देते सुना कि प्रभु यीशु वापस आ चुका है, वह सर्वशक्तिमान परमेश्वर है, और परमेश्वर ने नए वचन बोले हैं, तो इसे स्वीकारना उसके लिए मुश्किल था। उसका मानना था कि सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन और कार्य बाइबल से बाहर के हैं। बाद में, सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन पढ़ने के बाद, वह आखिर समझ सका कि बाइबल पूरी तरह से परमेश्वर द्वारा प्रेरित नहीं है; यही नहीं, बाइबल में अनंत जीवन निहित नहीं है, और सिर्फ अंत के दिनों के मसीह का अनुसरण करके ही हम सत्य और जीवन पा सकते हैं। कुछ समय तक जाँच-पड़ताल के बाद, उसने सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अंत के दिनों के कार्य को खुशी-खुशी स्वीकार लिया, और प्रभु का स्वागत किया।

और देखें

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें