Sermon Series | अंत के दिनों में परमेश्वर देहधारी होकर क्यों आता है, आत्मा के रूप में क्यों नहीं?

08 जनवरी, 2022

अंत के दिनों में देहधारी सर्वशक्तिमान परमेश्वर ने कई सत्य व्यक्त किए हैं और वह परमेश्वर के घर से शुरू करते हुए न्याय-कार्य कर रहा है। उसने आपदाओं से पहले विजेताओं का एक समूह तैयार कर लिया है। सर्वशक्तिमान परमेश्वर के राज्य का सुसमाचार दुनिया के हर देश में पहुँच चुका है, और अधिक से अधिक लोग परमेश्वर की वाणी सुन रहे हैं और सर्वशक्तिमान परमेश्वर की ओर मुड़ रहे हैं। इसके बावजूद, धार्मिक दुनिया के भीतर बहुत-से लोग विश्वास करने में पूरी तरह असमर्थ हैं कि प्रभु देह में लौट आया है, कि वो प्रकट होकर काम कर रहा है। उनका मानना ​​है कि प्रभु यीशु अपने पुनरुत्थान के बाद चालीस दिनों तक आत्मा के रूप में प्रकट हुआ था, इसलिए उसे आत्मा के रूप में ही वापस आना चाहिए। क्यों सर्वशक्तिमान परमेश्वर आत्मा के रूप में नहीं, बल्कि मनुष्य के देहधारी पुत्र के रूप में प्रकट होगा? कई लोग इस तथ्य के आधार पर सर्वशक्तिमान परमेश्वर को स्वीकार करने से इनकार करते हैं कि वह आत्मा के रूप में नहीं है, बल्कि मनुष्य का पुत्र है। वे स्वयं उद्धारकर्ता द्वारा उद्धार के अपने एकमात्र अवसर को खो रहे हैं, जिसके लिए वे अनंत काल तक पछताएंगे। तो परमेश्वर अंत के दिनों में आत्मा के रूप में कार्य करने के लिए प्रकट क्यों नहीं हुआ, उसने मनुष्य के पुत्र के रूप में देहधारण क्यों किया है? सच्ची आस्था की खोज की इस कड़ी में हम इस पर एक-साथ मनन कर परमेश्वर के कार्य के बारे में अधिक जान सकते हैं।

और देखें

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें