Hindi Christian Movie "मायाजाल को तोड़ दो" अंश 4 : क्या बाइबल में विश्वास करना प्रभु में विश्वास करने के बराबर है?

15 अगस्त, 2018

अधिकांश पादरियों और धार्मिक जगत के वरिष्ठ सदस्यों का मानना है कि बाइबल प्रभु का प्रतिनिधित्व करती है, और यह कि प्रभु में विश्वास करना बाइबल में विश्वास करना है, और बाइबल में विश्वास करना प्रभु में विश्वास करना है। उनका मानना है कि यदि कोई बाइबल की शिक्षाओं से हटकर कार्य करता है, तो उसे विश्वासी नहीं कहा जा सकता, और यह कि जब तक कोई बाइबल पर अवलंबित रहता है, तब तक उसे बचाया सकता है और वह स्वर्ग के राज्य में प्रवेश कर सकता है। क्या बाइबल वास्तव में प्रभु का प्रतिनिधित्व कर सकती है? बाइबल और प्रभु के बीच क्या संबंध है? पता लगाने के लिए इस विडियो को देखें।

और देखें

परमेश्वर का आशीष आपके पास आएगा! हमसे संपर्क करने के लिए बटन पर क्लिक करके, आपको प्रभु की वापसी का शुभ समाचार मिलेगा, और 2023 में उनका स्वागत करने का अवसर मिलेगा।

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें