2020 Hindi Christian Testimony Video | बुद्धिमान कुँवारियों ने प्रभु का स्वागत कैसे किया

23 दिसम्बर, 2020

ऐनिक और मिरेइल अच्छी मित्र हैं। एक दिन, सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया द्वारा बनायी फ़िल्म "कहाँ है घर मेरा" देखते समय संयोग से उन्हें एक मौक़ा मिलता है। उन्हें यह फिल्म बहुत प्रेरक लगती है, और मुख्य किरदार की नियति बदल देने वाली क़िताब उनमें ख़ास उत्सुकता जगाती है। वे क़िताब के वचनों के स्नेह और अधिकार को समझ पाती हैं और उन्हें लगता है कि कोई भी साधारण इंसान ऐसे वचन नहीं बोल सकता। जब वे सुनती हैं कि ये वचन वापस आये हुए प्रभु के हैं, तो उन्हें यकीन नहीं होता। उनके ख़याल से प्रभु अब तक बादल पर आकर खुले तौर पर प्रकट नहीं हुआ है, इसलिए यह दावा कैसे किया जा सकता है कि प्रभु वापस आ गया है? थोड़े अंदरूनी संघर्ष के बाद, वे इस सच्चाई पर विचार करती हैं कि परमेश्वर का कार्य इंसान के विचारों और कल्पनाओं से ऊपर का होता है, फिर वे अपनी धारणाओं और कल्पनाओं को छोड़ कर परमेश्वर के अंत के दिनों के कार्य की खोजबीन करने का फैसला करती हैं। अंत में, वे कैसे परमेश्वर की वाणी को पहचान कर प्रभु का स्वागत कर पाती हैं? आइए ऐनिक से उनकी कहानी सुनें।

और देखें

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें