2021 Hindi Christian Testimony Video | जब माँ ने जेल की सजा काटी

20 सितम्बर, 2021

छोटी उम्र में ही मुख्य पात्र के माता-पिता का तलाक हो जाने के बाद, वह और उसकी माँ कभी अलग नहीं हुए थे। फिर भी, जब वह 15 वर्ष की थी, तो उसे अचानक अपनी माँ के साथ घर से भागना पड़ा, क्योंकि परमेश्वर में विश्वास करने के कारण सीसीपी उसकी माँ के पीछे पड़ी हुई थी और उसे गिरफ्तार करने की फिराक में थी। तब से वह अपनी माँ से अलग होने को बाध्य थी। अगले 11 वर्षों में उसकी माँ को तीन बार गिरफ्तार किया गया, उसे यातनाओं और श्रम के माध्यम से पुनर्शिक्षण की सजा का सामना करना पड़ा। उसे बर्बरता और यंत्रणा झेलनी पड़ी। हर बार जब मुख्य पात्र अपनी माँ की गिरफ्तारी के बारे में सुनती तो उसे घोर व्यथा और कष्टों से गुजरना पड़ता। उस समय उसे किस तरह के अनुभव होते थे? जब उसकी माँ जेल में होती थी तो परमेश्वर उन कठिन दिनों में उन दोनों को कैसे रास्ता दिखाता था? यह सब जानने के लिए देखें जब माँ ने जेल की सजा काटी।

और देखें

2022 के लिए एक खास तोहफा—प्रभु के आगमन का स्वागत करने और आपदाओं के दौरान परमेश्वर की सुरक्षा पाने का मौका। क्या आप अपने परिवार के साथ यह विशेष आशीष पाना चाहते हैं?

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें