2021 Hindi Christian Testimony Video | मैं अब ज़िम्मेदारी से नहीं डरती

01 सितम्बर, 2021

वह एक ईसाई है और एक टीम अगुआ चुनी जाती है। एक टीम अगुआ के नाते उस पर काम की जिम्मेदारियाँ आ पड़ती हैं, इसलिए वह यह सोचकर चिंतित हो जाती है कि अगर उसने सत्य का अभ्यास नहीं किया और इस तरह कलीसिया के काम में देर करवा दी, तो उसे बदल दिया जाएगा या बाहर ही निकाल दिया जाएगा। प्रार्थना करने और परमेश्वर के वचन पढ़ने से उसे यह एहसास होता है कि बदले और हटाए जाने से जुड़ा उसका डर, परमेश्वर को लेकर उसकी गलतफहमी से पैदा हुआ है और इससे उसका छल-कपट भरा शैतानी स्वभाव उजागर होता है। उसकी समझ में यह भी आता है कि किसी को बचाया जाएगा या नहीं, यह इस बात से पूर्वनियत होता है कि क्या वह सत्य की खोज करता है, यह उसके कर्तव्य के प्रकार से जुड़ा हुआ नहीं होता। बाद में, वह खोज को लेकर अपने गलत दृष्टिकोण को ठीक करती है और ईमानदारी से अभ्यास करना, अपना हृदय परमेश्वर को सौंपना और साहस के साथ अपनी जिम्मेदारियों का सामना करना शुरू करती है। वह अपना पूरा ध्यान सत्य की खोज करने और अपने कर्तव्य को अच्छी तरह से निभाने पर लगाती है। ऐसा करके वह बंधन-मुक्त और अडिग महसूस करती है।

और देखें

सभी विश्वासी यीशु मसीह की वापसी के लिए तरस रहे हैं। क्या आप उनमें से एक हैं? हमारी ऑनलाइन सहभागिता में शामिल हों और आपको परमेश्वर से फिर से मिलने का अवसर मिलेगा।

साझा करें

रद्द करें