Hindi Christian Testimony Video | परेमश्वर के सामने जीवन जीना

02 अगस्त, 2020

अपनी आस्था में कई लोग सिर्फ़ प्रार्थना करने, सभाओं में जाने, और परमेश्वर के वचनों को पढ़ने पर ध्यान देते हैं। वे असली जीवन में परमेश्वर के वचनों से जुड़ पाने में विफल रहते हैं, और इस तरह सत्य को हासिल करने के कई अवसर गंवा देते हैं। इस वीडियो की मुख्य किरदार परमेश्वर के सामने जीवन जीने के बारे में बात कर रही है। परमेश्वर के वचनों का इस्तेमाल करके, वह अपने विचारों और कार्यों की जाँच कर रही है, और जब उसकी भ्रष्टता प्रकट होती है तो वह सत्य की मदद से उसे दूर करने की कोशिश करती है। हालांकि जीवन में उसे केवल छोटे-मोटे और साधारण मामलों का सामना करना पड़ा हो, फिर भी इस तरह के अभ्यास से वह समझ हासिल करती है और इसका फल उसे प्राप्त होता है। तो, आख़िर वह कैसे परमेश्वर के वचनों को अपने दैनिक जीवन में शामिल करती है?

WhatsApp: +91-875-396-2907

और देखें

सभी विश्वासी यीशु मसीह की वापसी के लिए तरस रहे हैं। क्या आप उनमें से एक हैं? हमारी ऑनलाइन सहभागिता में शामिल हों और आपको परमेश्वर से फिर से मिलने का अवसर मिलेगा।

साझा करें

रद्द करें