2021 Hindi Christian Testimony Video | क्या बाइबल में आस्था और परमेश्वर में आस्था एक ही बात है?

21 दिसम्बर, 2021

मुख्य किरदार निष्ठावान विश्वासी है और प्रभु के आने की बाट जोह रही है। बाद में फेसबुक से वह जान पाती है कि सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया गवाही दे रही है कि प्रभु यीशु वापस लौट आया है। वह इसकी खोजबीन करना चाहती है, लेकिन उसके पादरी का कहना है कि सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया द्वारा प्रचारित मार्ग बाइबल से बाहर का है, और बाइबल से बाहर की हर चीज विधर्म है, इसलिए वह झिझकती है और जांच-पड़ताल करने की हिम्मत नहीं करती। प्रार्थना करने के बाद, उसे एहसास होता है कि प्रभु का आना कोई छोटी बात नहीं है और वह सिर्फ भीड़ के पीछे नहीं चल सकती। फिर वह खुद देखने के लिए सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया की वेबसाइट पर जाती है, और वहाँ उसे परमेश्वर की गवाही के अनेक वीडियो मिलते हैं। सत्य के बारे में कलीसिया की संगति व्यावहारिक और प्रबुद्ध करने वाली होती है, और यह उसकी बरसों की उलझनों और मुश्किलों का समाधान कर देती है। इन वीडियो से वह यह भी जान जाती है कि परमेश्वर ही सृजन का प्रभु है, और उसे अपने कार्य में, बाइबल से बाहर जाने का पूरा अधिकार है, फिर उसे एहसास होता है कि बाइबल में आस्था रखना, परमेश्वर में आस्था रखना नहीं है। अपनी जांच-पड़ताल से, उसे यकीन हो जाता है कि सर्वशक्तिमान परमेश्वर ही लौटकर आया हुआ प्रभु यीशु है, इसलिए वह परमेश्वर के अंत के दिनों के कार्य को स्वीकार कर लेती है, और मेमने के पदचिह्नों पर चलने लगती है।

और देखें

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें