Hindi Christian Testimony Video | परमेश्वर का संरक्षण | True Story of a Christian

30 अगस्त, 2020

परमेश्वर का संरक्षण में, मुख्य किरदार कुछ सक्षम होने और अपने काम में कुछ अच्छे परिणाम पाने के कारण, खुद के बारे में बढ़-चढ़ कर सोचती है, अधिक अहंकारी और दंभी होकर बाकी सभी लोगों की उपेक्षा करती है। वह मनमानी करती है और कलीसिया के कार्य को विघटित करती है। दो बार उसकी काँट-छाँट कर उसके साथ इतनी सख्ती से निपटा जाता है कि उसके दिल पर अमिट छाप पड़ जाती है, परमेश्वर के वचनों के प्रकाशन और न्याय से वह अपनी खुद की अहंकारी प्रकृति की थोड़ी समझ हासिल करती है और समझ जाती है कि परमेश्वर का धर्मी स्वभाव कोई अपमान सहन नहीं करेगा। उसके मन में परमेश्वर के प्रति थोड़ा आदर पैदा होता है और वह सत्य को खोजने पर ध्यान केंद्रित करने लगती है और सिद्धांतों के अनुसार अपने काम करती है। वह सच्चाई से महसूस करने लगती है कि केवल परमेश्वर के न्याय और ताड़ना से ही भ्रष्ट स्वभाव का शुद्धिकरण और परिवर्तन किया जा सकता है। काँट-छाँट, निपटान, न्याय और ताड़ना, मानवता के लिए परमेश्वर का महानतम प्रेम और संरक्षण हैं।

WhatsApp: +91-875-396-2907

और देखें

सभी विश्वासी यीशु मसीह की वापसी के लिए तरस रहे हैं। क्या आप उनमें से एक हैं? हमारी ऑनलाइन सहभागिता में शामिल हों और आपको परमेश्वर से फिर से मिलने का अवसर मिलेगा।

साझा करें

रद्द करें