परमेश्वर के दैनिक वचन | "बाइबल के विषय में (1)" | अंश 268

यदि तुम व्यवस्था के युग के कार्य को देखने की इच्छा करते हो, और यह देखना चाहते हो कि इज़राइली किस प्रकार यहोवा के मार्ग का अनुसरण करते थे, तो तुम्हें पुराना विधान अवश्य पढ़ना चाहिए; यदि तुम अनुग्रह के युग के कार्य को समझना चाहते हो, तो तुम्हें नया विधान अवश्य पढ़ना चाहिए। किन्तु तुम अंतिम दिनों के कार्य को किस प्रकार देखते हो? तुम्हें आज के परमेश्वर की अगुआई को स्वीकार अवश्य करना चाहिए, और आज के कार्य में प्रवेश करना चाहिए, क्योंकि यह नया कार्य है, और किसी ने भी पूर्व में इसे बाइबल में दर्ज नहीं किया है। आज, परमेश्वर देहधारी हो चुका है और उसने चीन में अन्य चयनित लोगों को छाँट लिया है। परमेश्वर इन लोगों में कार्य करता है, वह पृथ्वी पर अपने काम को निरन्तर जारी रखता है, और अनुग्रह के युग के कार्य को जारी रखता है। आज का कार्य एक मार्ग है जिस पर मनुष्य कभी नहीं चला, और एक तरीका है जिसे किसी ने कभी नहीं देखा है। यह वह कार्य है जिसे पहले कभी नहीं किया गया है—यह पृथ्वी पर परमेश्वर का नवीनतम कार्य है। इस प्रकार, ऐसा कार्य जो पहले कभी नहीं किया गया हो वह इतिहास नहीं है, क्योंकि अभी तो अभी है, और इसे अभी अतीत बनना है। लोग नहीं जानते हैं कि परमेश्वर ने पृथ्वी पर और इस्राएल के बाहर बड़ा, नया काम किया है, कि यह पहले ही इस्राएल के दायरे के बाहर, और भविष्यवक्ताओं के पूर्वकथनों के परे चला गया है, कि यह भविष्यवाणियों के बाहर नया और बेहतरीन, और इस्राएल के परे नवीनतम कार्य है, और ऐसा कार्य है जिसे लोग न तो समझ सकते हैं और न ही जिसकी कल्पना कर सकते हैं। बाइबल ऐसे कार्य के सुस्पष्ट अभिलेखों को कैसे समाविष्ट कर सकती है? कौन आज के कार्य के प्रत्येक अंश को, बिना किसी चूक के, पहले से ही दर्ज कर सका होगा? कौन इस अति पराक्रमी, अति बुद्धिमत्तापूर्ण कार्य को इस पुरानी घिसीपिटी पुस्तक में दर्ज कर सकता है जो परम्परा का अनादर करता है? आज का कार्य इतिहास नहीं है, और वैसे तो, यदि तुम आज के नए पथ पर चलने की इच्छा करते हो, तो तुम्हें बाइबल से दूर अवश्य जाना चाहिए, तुम्हें बाइबल की भविष्यवाणियों या इतिहास की पुस्तकों के परे अवश्य जाना चाहिए। केवल तभी तुम इस नए मार्ग पर उचित तरीके से चल पाओगे, और केवल तभी तुम एक नए राज्य और नए कार्य में प्रवेश कर पाओगे। तुम्हें यह अवश्य समझना चाहिए कि क्यों, आज, तुम से बाइबल न पढ़ने को कहा जा रहा है, क्यों एक अन्य कार्य है जो बाइबल से अलग है, क्यों परमेश्वर बाइबल में किसी नवीनतम तथा अधिक विस्तृत अभ्यासों की ओर नहीं देखता है, क्यों इसके बजाए बाइबल के बाहर अधिक पराक्रमी कार्य हैं। यही वह सब है जो तुम लोगों को समझना चाहिए। तुम्हें पुराने और नए कार्य के बीच के अंतर को अवश्य जानना चाहिए, और यद्यपि तुम बाइबल को नहीं पढ़ते हो, फिर भी तुम्हें उसका विश्लेषण करने में समर्थ होना चाहिए; यदि नहीं, तो तुम अभी भी बाइबल की ही आराधना करोगे, और तुम्हारे लिए नए कार्य में प्रवेश करना और नए परिवर्तनों से गुज़रना कठिन होगा। चूँकि यहाँ एक उच्चतर मार्ग है, तो उस निम्न एवं पुराने मार्ग का अध्ययन क्यों करते हो? चूँकि यहाँ अधिक नवीन कथन हैं, और अधिक नया कार्य है, तो पुराने ऐतिहासिक अभिलेखों के मध्य जीवन क्यों बिताते हो? नए कथन तुम्हारा भरण-पोषण कर सकते हैं, जिससे यह साबित होता है कि यह नया कार्य है; पुराने लिखित दस्तावेज़ तुम्हें तृप्त नहीं कर सकते हैं, या तुम्हारी वर्तमान आवश्यकताओं को संतुष्ट नहीं कर सकते हैं, जिससे यह साबित होता है कि वे इतिहास हैं, और यहाँ के और वर्तमान के कार्य नहीं हैं। उच्चतम मार्ग ही नवीनतम कार्य है, और नए कार्य के साथ, इससे कोई फ़र्क नहीं पड़ता है कि अतीत का मार्ग कितना ऊँचा था, यह अभी भी लोगों के चिंतनों का इतिहास है, और इससे कोई फ़र्क नहीं पड़ता है कि सन्दर्भ के रूप में इसका कितना महत्व है, यह अभी भी एक पुराना मार्ग है। यद्यपि इसे "पवित्र पुस्तक" में दर्ज किया गया है, फिर भी पुराना मार्ग इतिहास है; यद्यपि "पवित्र पुस्तक" में इसका कोई अभिलेख नहीं है, फिर भी नया मार्ग यहाँ का और अभी का है। यह मार्ग तुम्हें बचा सकता है, और यह मार्ग तुम्हें परिवर्तित कर सकता है, क्योंकि यह पवित्र आत्मा का कार्य है।

— 'वचन देह में प्रकट होता है' से उद्धृत

परमेश्वर ने अंत के दिनों में अन्य राष्ट्रों में ज़्यादा बड़ा और ज़्यादा नया काम किया है

अगर तुम व्यवस्था के युग के काम को देखना चाहो, किस तरह इस्राएली ईश्वर के मार्ग पर चले, तो तुम्हें पुराने नियमों को पढ़ना चाहिए। अगर तुम ईश्वर के अनुग्रह के युग के काम को जानना चाहो, तो तुम्हें नए नियमों को पढ़ना चाहिए।

अगर तुम अंत के दिनों के काम को जानना चाहो, तो तुम्हें आज के ईश्वर की रहनुमाई को स्वीकारना चाहिए। तुम्हें आज के काम में प्रवेश करना चाहिए, क्योंकि ये बाइबल में नहीं मिलता, ये नया काम है। आज ईश्वर ने देहधारण किया है, चीन में चुने हुए लोगों को छाँटा है, इन लोगों में काम कर रहा है, अनुग्रह के युग के काम को जारी रखे है। लोगों को ख़बर नहीं, ईश्वर ने धरती पर ज़्यादा बड़ा, ज़्यादा नया काम किया है, इस्राएल और नबियों की भविष्यवाणियों से परे काम किया है। वाह, कितना शानदार है! परमेश्वर का काम, नबियों की भविष्यवाणियों, इंसान की कल्पनाओं से परे है।

आज ईश्वर का काम ऐसा मार्ग है जिस पर इंसान न चला है, न उसने देखा है, ईश्वर का नवीनतम काम धरती पर पहले कभी नहीं हुआ है। कौन इन्हें बाइबल में लिख सकता था, बिना कुछ छूटे पहले से दर्ज कर सकता था?

कौन घिसी-पिटी पुरानी किताब में दर्ज कर सकता था, इस महान काम को, ललकारता जो दस्तूरों को? आज का काम इतिहास नहीं है। आज की नयी राह पर चलने के लिए बाइबल से परे जाओ, इतिहास और भविष्यवाणियों से परे जाओ। तुम मार्ग पर ठीक से चल पाओगे, नए राज्य और उसके नए कार्य में प्रवेश कर पाओगे! लोगों को ख़बर नहीं, ईश्वर ने धरती पर ज़्यादा बड़ा, ज़्यादा नया काम किया है, इस्राएल और नबियों की भविष्यवाणियों से परे काम किया है। वाह, कितना शानदार है! परमेश्वर का काम, नबियों की भविष्यवाणियों, इंसान की कल्पनाओं से परे है। लोगों को ख़बर नहीं, ईश्वर ने धरती पर ज़्यादा बड़ा, ज़्यादा नया काम किया है, इस्राएल और नबियों की भविष्यवाणियों से परे काम किया है। वाह, कितना शानदार है! परमेश्वर का काम, नबियों की भविष्यवाणियों, इंसान की कल्पनाओं से परे है, इंसान की कल्पनाओं से परे है।

'मेमने का अनुसरण करो और नए गीत गाओ' से उद्धृत

दुनिया आपदा से घिर गई है। यह हमें क्या चेतावनी देती है? आपदाओं के बीच हम परमेश्वर द्वारा कैसे सुरक्षित किये जा सकते हैं? इसके बारे में ज़्यादा जानने के लिए हमारे साथ हमारी ऑनलाइन मीटिंग में जुड़ें।
WhatsApp पर हमसे संपर्क करें
Messenger पर हमसे संपर्क करें

संबंधित सामग्री

परमेश्वर के दैनिक वचन | "दुष्टों को निश्चित ही दंड दिया जाएगा" | अंश 329

पहले, जब परमेश्वर स्वर्ग में था, तब मनुष्य ने अपने चाल-चलन से उसे मूर्ख बनाने की कोशिश की; आज, परमेश्वर मनुष्य के बीच आ गया है—कितने समय के...

परमेश्वर के दैनिक वचन | "परमेश्वर और मनुष्य एक साथ विश्राम में प्रवेश करेंगे" | अंश 598

वे जो खोज करते हैं और वे जो खोज नहीं करते, वे अब दो भिन्न प्रकार के लोग हैं, और इन दो प्रकार के लोगों के दो अलग-अलग गंतव्य हैं। वे जो सत्य...

परमेश्वर के दैनिक वचन | "पतरस के अनुभव: ताड़ना और न्याय का उसका ज्ञान" | अंश 247

लोग कहते हैं कि परमेश्वर एक धर्मी परमेश्वर है, और यह कि जब तक मनुष्य अंत तक उसके पीछे पीछे चलता रहता है, वह निश्चित रूप से मनुष्य के प्रति...

परमेश्वर के दैनिक वचन | "केवल वे लोग ही परमेश्वर की गवाही दे सकते हैं जो परमेश्वर को जानते हैं" | अंश 518

यह स्वर्ग का नियम और पृथ्वी का सिद्धांत है कि परमेश्वर पर विश्वास किया जाए और उसको जाना जाए, और आज—इस युग के दौरान जब देहधारी परमेश्वर...