from Follow the Lamb and Sing New Songs

published on

कैसे परमेश्वर करते हैं सब पर राज

परमेश्वर के वचन का भजन कैसे परमेश्वर करते हैं सब पर राज जिस पल तुम आये दुनिया पर, रोते हुए, उस पल से ही तुम कर्त्तव्य सारा, निभाते गए, मानते हुए परमेश्वर के हर विधान, और योजना, तुम समझ लिए, हर काम अपना, और किया शुरू इस जीवन का सफर... जो भी हो तेरा कल, या हो सफर आगे का, कोई नहीं बच सकता है, स्वर्ग के आयोजन से, किस्मत किसी के बस में है तो नहीं, क्योंकि वो ही है, जो राजा सभी का, कर सकते हैं ऐसा काम... जब से मानव आया, संसार में, परमेश्वर अपना हर एक काम करते गए, करते हुए सदा ही हर प्रबंध, संसार का, सभी की गति और बदलाव का करते गए सदा ही संचालन। सभी चीज़ों की तरह मानव भी, शांति से और अनजाने में, मधुर पोषण, ओस और बरसात पाता है परमेश्वर से, सभी की तरह, अनजाने में ही, मानव भी परमेश्वर के आयोजन में है जीता। हर मानव का दिल, और आत्मा, है तो बस प्रभु के हाथों में, उसका पूरा जीवन प्रभु देखते हैं ध्यान से, तुम चाहे मानो या फिर ना मानो, ऐसा ही होता है संसार में; हर वस्तुएँ, जीवित या मृत, बदल जाएंगी, और हो जाएंगी फिर से नयी, और खो जाएंगी, परमेश्वर की इच्छानुसार, ऐसे ही परमेश्वर करते हैं सभी पर राज। \"वचन देह में प्रकट होता है\" से

कैसे परमेश्वर करते हैं सब पर राज

  • लोड हो रहा है...
साझा करें Facebook
साझा करें Twitter
साझा करें Google+
साझा करें Pinterest
साझा करें Reddit