Hindi Christian Testimony Video Based on a True Story | तुम्हारा कर्तव्य तुम्हारा करियर नहीं है

09 दिसम्बर, 2021

जिन कलीसियाओं की जिम्मेदारी मुख्य किरदार के पास है, वहां काम कर रहे लोगों को अगुआ कई बार दूसरी कलीसियाओं की ज़रूरतें पूरी करने के लिए वहां भेजते रहते हैं। मुख्य किरदार को डर लगने लगता है कि अगर अच्छी काबिलियत वाले भाई-बहनों को दूसरी जगह भेज दिया गया, तो उसकी कलीसियों के प्रदर्शन में गिरावट आएगी और उसका पद भी खतरे में पड़ जाएगा। इसी वजह से वह कलीसिया के उन सदस्यों को दूसरी जगह नहीं भेजना चाहती है। परमेश्वर के वचनों के न्याय और प्रकाशन के ज़रिए उसे अपने बारे में क्या सीख मिलती है? क्या वह अपनी गलत मंशाओं को छोड़कर खुशी-खुशी काबिल लोगों को कलीसिया के काम के लिए भेजने को तैयार होती है? जानने के लिए देखें "तुम्हारा कर्तव्य तुम्हारा करियर नहीं है"।

और देखें

परमेश्वर की ओर से एक आशीर्वाद—पाप से बचने और बिना आंसू और दर्द के एक सुंदर जीवन जीने का मौका पाने के लिए प्रभु की वापसी का स्वागत करना। क्या आप अपने परिवार के साथ यह आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं?

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें