Hindi Christian Movie "परमेश्वर में आस्था" अंश 5 : क्या परमेश्वर में सच्ची आस्था और परिश्रम समान हैं?

25 जून, 2018

अधिकांश विश्वासियों का मानना है कि यदि हम प्रभु का नाम लेते हैं, प्रार्थना करते है, बाइबल पढ़ते हैं और बैठकों में जाते हैं, और यदि हम वस्तुओं का त्याग करते हैं, प्रभु के लिए खर्च और कष्ट उठाकर कार्य करते हैं, तो यह प्रभु में सच्चा विश्वास है, और जब प्रभु लौटेंगे तब हम स्वर्ग के राज्य में आरोहित किए जाने में सक्षम होंगे। क्या इस प्रकार का विचार सही है? यह वीडियो जवाब से अवगत करवायेगा।

और देखें

2022 के लिए एक खास तोहफा—प्रभु के आगमन का स्वागत करने और आपदाओं के दौरान परमेश्वर की सुरक्षा पाने का मौका। क्या आप अपने परिवार के साथ यह विशेष आशीष पाना चाहते हैं?

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें