सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया का ऐप

परमेश्वर की आवाज़ सुनें और प्रभु यीशु की वापसी का स्वागत करें!

सत्य को खोजने वाले सभी लोगों का हम से सम्पर्क करने का स्वागत करते हैं

मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना

ठोस रंग

विषय-वस्तुएँ

फॉन्ट

फॉन्ट का आकार

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

0 खोज परिणाम

कोई परिणाम नहीं मिला

`

निर्मल और शुद्ध है जीवन-जल परमेश्वर के सिंहासन का

I

देहधारी बना परमेश्वर सत्य व्यक्त करता है।

अपने लोगों को वो सींचता-पोषित करता है।

हम सुनते हैं वाणी उसकी,

और उन्नत किये जाते हैं सिंहासन के सम्मुख उसके,

शामिल होने भोज में उसके।

परमेश्वर के वचन करते हैं प्रबुद्ध और प्रकाशित हमें,

ताकि देख सकें सच्चाई शैतान के हाथों दूषित हुए इंसान की।

बचाया है परमेश्वर ने हमें,

घुमा ली है पीठ हमने अपनी बड़े लाल अजगर की ओर से

और कर दिया है दरकिनार असर शैतान का।

परमेश्वर है सबसे सुंदर।

हे सर्वशक्तिमान परमेश्वर! आभार हो तुम्हारा और तुम्हारी जय हो!

दिया है सत्य और जीवन हमें तुमने,

और पथ हमारा उजला होता जाता, हर कदम के साथ।

II

हे सर्वशक्तिमान परमेश्वर, तुम्हारी महिमा हो!

बचा लिया अब तुमने हमें।

तलवार की मानिंद हैं वचन तुम्हारे,

जो करते हैं प्रकट दूषित स्वभाव हमारे।

होते हैं उजागर रोशनी में, विद्रोही मन हमारे,

भट्ठी का शुद्धिकरण करता है शुद्ध हमें।

जानते हैं तुम्हारे स्वभाव के रोष को, प्रताप को हम,

गिर जाते हैं श्रद्धा से हम सम्मुख तुम्हारे।

हे सर्वशक्तिमान परमेश्वर! आभार हो तुम्हारा और तुम्हारी जय हो!

देखी है धार्मिकता और पवित्रता मैंने तुम्हारी

और जीता जा चुका है दिल मेरा।

III

तुम्हारी सेवा की ख़ातिर घेर लेते हैं हम सिंहासन तुम्हारा,

ताकि पूरी हो इच्छा धरती पर तुम्हारी।

राह दिखाते हैं वचन तुम्हारे, हो जाते हैं पूर्ण हम,

वश में करके मुश्किलों को, यातना को।

जो भी व्यक्त करते, प्रकट करते तुम सत्य है वो,

काफ़ी है ये गुज़र-बसर के लिये हमारी।

अविरल बहता है जीवन-जल सिंहासन से,

हो गये रूपांतरित हम नव-मानव में;

मुदित है परमेश्वर, आनंदित हम।

हे सर्वशक्तिमान परमेश्वर! आभार हो तुम्हारा और तुम्हारी जय हो!

समर्पित होते हैं सम्मुख तुम्हारे जीव हम

और करते हैं आराधना तुम्हारी।

करेंगे गुणगान तुम्हारा हम अनंत काल तक।

"मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना" से

पिछला:परमेश्वर के दिल का मुझे ख्याल करना चाहिए

अगला:हे परमेश्वर, तेरे प्यार के काबिल नहीं मैं

शायद आपको पसंद आये