Hindi Christian Testimony Video | मैं ईमानदार आचरण क्यों नहीं कर पाई | True Story of a Christian

16 सितम्बर, 2022

वह एक समूह-निरीक्षक है, जो हमेशा यह चाहती है कि लोग उसका सम्मान करें। जब भाई-बहन उससे समस्याओं का समाधान चाहते हैं, तो वह समझने का नाटक करती है। जब वह कमजोर होती है, तो मजबूत होने का दिखावा करती है, लोगों से कभी खुलकर बात नहीं करती, क्योंकि उसे लगता है कि अपनी कठिनाइयों के बारे में खुलकर बात करना नकारात्मकता फैलाना है। हर दिन खुद को छिपाना और अपनी अच्छी छवि पेश करना बहुत थकाऊ काम है। सत्य खोजकर वह अपने बारे में क्या सीखती है? नकारात्मकता फैलाने और खुलकर बात करने में क्या अंतर है?

और देखें

परमेश्वर का आशीष आपके पास आएगा! हमसे संपर्क करने के लिए बटन पर क्लिक करके, आपको प्रभु की वापसी का शुभ समाचार मिलेगा, और 2023 में उनका स्वागत करने का अवसर मिलेगा।

साझा करें

रद्द करें

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें