सत्य को खोजने वाले सभी लोगों का हम से सम्पर्क करने का स्वागत करते हैं
सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "पृथ्वी के परमेश्वर को कैसे जानें"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "पृथ्वी के परमेश्वर को कैसे जानें" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "परमेश्वर की इच्छा की समरसता में सेवा कैसे करें"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "परमेश्वर की इच्छा की समरसता में सेवा कैसे करें" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - चौथा कथन"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - चौथा कथन" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "उद्धारकर्त्ता पहले से ही एक "सफेद बादल" पर सवार होकर वापस आ चुका है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "उद्धारकर्त्ता पहले से ही एक "सफेद बादल" पर सवार होकर वापस आ चुका है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "तुम किस के प्रति वफादार हो?"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "तुम किस के प्रति वफादार हो?" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "आज परमेश्वर के कार्य को जानना"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "आज परमेश्वर के कार्य को जानना" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "मसीह न्याय का कार्य सत्य के साथ करता है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "मसीह न्याय का कार्य सत्य के साथ करता है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "परमेश्वर मनुष्य के जीवन का स्रोत है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "परमेश्वर मनुष्य के जीवन का स्रोत है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "परमेश्वर का प्रकटीकरण एक नया युग लाया है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "परमेश्वर का प्रकटीकरण एक नया युग लाया है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "विश्वासियों को क्या दृष्टिकोण रखना चाहिए"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "विश्वासियों को क्या दृष्टिकोण रखना चाहिए" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "बुलाए हुए बहुत हैं, परन्तु चुने हुए कुछ ही हैं"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "बुलाए हुए बहुत हैं, परन्तु चुने हुए कुछ ही हैं" परमेश्वर के वचन "क्या तुम जानते हो? परमेश्वर ने मनुष्यों के बीच एक बहुत बड़ा काम किया है"परमेश्वर के वचन "क्या तुम जानते हो? परमेश्वर ने मनुष्यों के बीच एक बहुत बड़ा काम किया है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "सहस्राब्दि राज्य आ चुका है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "सहस्राब्दि राज्य आ चुका है" तुम यीशु के आध्यात्मिक शरीर को तब देखोगे जब परमेश्वर स्वर्ग और पृथ्वी को नये सिरे से बना चुकता हैतुम यीशु के आध्यात्मिक शरीर को तब देखोगे जब परमेश्वर स्वर्ग और पृथ्वी को नये सिरे से बना चुकता है सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "देहधारी परमेश्वर की सेवकाई और मनुष्य के कर्तव्य के बीच अंतर" (भाग 2)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "देहधारी परमेश्वर की सेवकाई और मनुष्य के कर्तव्य के बीच अंतर" (भाग 2) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "देहधारी परमेश्वर की सेवकाई और मनुष्य के कर्तव्य के बीच अंतर" (भाग 1)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "देहधारी परमेश्वर की सेवकाई और मनुष्य के कर्तव्य के बीच अंतर" (भाग 1) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "भ्रष्ट मनुष्य परमेश्वर का प्रतिनिधित्व करने में अक्षम है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "भ्रष्ट मनुष्य परमेश्वर का प्रतिनिधित्व करने में अक्षम है" परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के कार्य के तीन चरणों को जानना ही परमेश्वर को जानने का मार्ग है" (भाग दो)परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के कार्य के तीन चरणों को जानना ही परमेश्वर को जानने का मार्ग है" (भाग दो) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "पद नामों एवं पहचान के सम्बन्ध में" (भाग दो)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "पद नामों एवं पहचान के सम्बन्ध में" (भाग दो) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - तेरहवाँ कथन"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - तेरहवाँ कथन" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - सोलहवाँ कथन"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - सोलहवाँ कथन" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - आठवाँ कथन"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - आठवाँ कथन" परमेश्वर के कथन "तुम्हें सत्य के लिए जीना चाहिए क्योंकि तुम्हें परमेश्वर में विश्वास है"परमेश्वर के कथन "तुम्हें सत्य के लिए जीना चाहिए क्योंकि तुम्हें परमेश्वर में विश्वास है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "केवल वही जो परमेश्वर को जानते हैं, उसकी गवाही दे सकते हैं"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "केवल वही जो परमेश्वर को जानते हैं, उसकी गवाही दे सकते हैं" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - उन्नीसवाँ कथन"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - उन्नीसवाँ कथन" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - बाईसवाँ कथन"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - बाईसवाँ कथन" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - तेइसवाँ कथन"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - तेइसवाँ कथन" परमेश्वर के कथन "भ्रष्ट मनुष्यजाति को देहधारी परमेश्वर के उद्धार की अधिक आवश्यकता है" (भाग तीन)परमेश्वर के कथन "भ्रष्ट मनुष्यजाति को देहधारी परमेश्वर के उद्धार की अधिक आवश्यकता है" (भाग तीन) परमेश्वर के कथन "भ्रष्ट मनुष्यजाति को देहधारी परमेश्वर के उद्धार की अधिक आवश्यकता है" (भाग एक)परमेश्वर के कथन "भ्रष्ट मनुष्यजाति को देहधारी परमेश्वर के उद्धार की अधिक आवश्यकता है" (भाग एक) परमेश्वर के कथन "भ्रष्ट मनुष्यजाति को देहधारी परमेश्वर के उद्धार की अधिक आवश्यकता है" (भाग दो)परमेश्वर के कथन "भ्रष्ट मनुष्यजाति को देहधारी परमेश्वर के उद्धार की अधिक आवश्यकता है" (भाग दो) परमेश्वर पर विश्वास करना वास्तविकता पर केंद्रित होना चाहिए, न कि धार्मिक रीति-रिवाजों परपरमेश्वर पर विश्वास करना वास्तविकता पर केंद्रित होना चाहिए, न कि धार्मिक रीति-रिवाजों पर सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - अट्ठाइसवाँ कथन"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - अट्ठाइसवाँ कथन" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - पच्चीसवाँ कथन"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - पच्चीसवाँ कथन" आज का वचन "तीन चेतावनियाँ" | The Warning of God to Man (Hindi)आज का वचन "तीन चेतावनियाँ" | The Warning of God to Man (Hindi) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - चौदहवाँ कथन"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - चौदहवाँ कथन" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के प्रकटन को उनके न्याय और ताड़ना में देखना"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के प्रकटन को उनके न्याय और ताड़ना में देखना" कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा के वचन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - सत्ताईसवाँ कथन"कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा के वचन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - सत्ताईसवाँ कथन" पवित्र आत्मा का वचन "एक अपरिवर्तित स्वभाव का होना परमेश्वर के साथ शत्रुता होना है"पवित्र आत्मा का वचन "एक अपरिवर्तित स्वभाव का होना परमेश्वर के साथ शत्रुता होना है" पवित्र आत्मा का वचन "तुम लोगों को अपने कार्यों पर विचार करना चाहिए"पवित्र आत्मा का वचन "तुम लोगों को अपने कार्यों पर विचार करना चाहिए" Maseeh ke kathan "जो आज परमेश्वर के कार्य को जानते हैं केवल वे ही परमेश्वर की सेवा कर सकते हैं"Maseeh ke kathan "जो आज परमेश्वर के कार्य को जानते हैं केवल वे ही परमेश्वर की सेवा कर सकते हैं" Maseeh ke kathan "स्वर्गिक परमपिता की इच्छा के प्रति आज्ञाकारिता ही मसीह का वास्तविक सार है"Maseeh ke kathan "स्वर्गिक परमपिता की इच्छा के प्रति आज्ञाकारिता ही मसीह का वास्तविक सार है" कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा के वचन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन-सातवाँ कथन"कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा के वचन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन-सातवाँ कथन" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "दुष्ट को दण्ड अवश्य दिया जाना चाहिए"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "दुष्ट को दण्ड अवश्य दिया जाना चाहिए" परमेश्वर के आत्मा का वचन "केवल पूर्ण बनाया गया ही एक सार्थक जीवन जी सकता है"परमेश्वर के आत्मा का वचन "केवल पूर्ण बनाया गया ही एक सार्थक जीवन जी सकता है" पवित्र आत्मा का वचन "सेवा के धार्मिक तरीके पर अवश्य प्रतिबंध लगना चाहिए"पवित्र आत्मा का वचन "सेवा के धार्मिक तरीके पर अवश्य प्रतिबंध लगना चाहिए" कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा के वचन "तुम किस के प्रति वफादार हो?"कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा के वचन "तुम किस के प्रति वफादार हो?" परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के कार्य के तीन चरणों को जानना ही परमेश्वर को जानने का मार्ग है" (भाग दो)परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के कार्य के तीन चरणों को जानना ही परमेश्वर को जानने का मार्ग है" (भाग दो) कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा के वचन "देहधारण के महत्व को दो देहधारण पूरा करते हैं"कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा के वचन "देहधारण के महत्व को दो देहधारण पूरा करते हैं" पवित्र आत्मा के वचन "तुम्हें सत्य के लिए जीना चाहिए क्योंकि तुम्हें परमेश्वर में विश्वास है"पवित्र आत्मा के वचन "तुम्हें सत्य के लिए जीना चाहिए क्योंकि तुम्हें परमेश्वर में विश्वास है" कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा के वचन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन-ग्यारहवाँ कथन"कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा के वचन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन-ग्यारहवाँ कथन" कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा का वचन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - सत्रहवाँ कथन"कलिसियाओं के लिए पवित्र आत्मा का वचन "संपूर्ण ब्रह्मांड के लिए परमेश्वर के कथन - सत्रहवाँ कथन" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर सम्पूर्ण मानवजाति के भाग्य का नियन्ता है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर सम्पूर्ण मानवजाति के भाग्य का नियन्ता है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "क्या आप जाग उठे हैं?"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "क्या आप जाग उठे हैं?" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "एक वास्तविक मनुष्य होने का क्या अर्थ है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "एक वास्तविक मनुष्य होने का क्या अर्थ है" परमेश्वर के कथन "परमेश्वर में अपने विश्वास में तुम्हें परमेश्वर की आज्ञाओं का पालन करना चाहिए"परमेश्वर के कथन "परमेश्वर में अपने विश्वास में तुम्हें परमेश्वर की आज्ञाओं का पालन करना चाहिए" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "केवल परमेश्वर के प्रबंधन के मध्य ही मनुष्य बचाया जा सकता है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "केवल परमेश्वर के प्रबंधन के मध्य ही मनुष्य बचाया जा सकता है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के वचन के द्वारा सब कुछ प्राप्त हो जाता है" (भाग दो)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के वचन के द्वारा सब कुछ प्राप्त हो जाता है" (भाग दो) केवल वह जो परमेश्वर के कार्य को अनुभव करता है वही परमेवर में सच में विश्वास करता हैकेवल वह जो परमेश्वर के कार्य को अनुभव करता है वही परमेवर में सच में विश्वास करता है परमेश्वर के कथन "पतरस ने यीशु को कैसे जाना" | Peter's Faith and Love for Jesus Christ (Hindi)परमेश्वर के कथन "पतरस ने यीशु को कैसे जाना" | Peter's Faith and Love for Jesus Christ (Hindi) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य और मनुष्य का काम" (भाग एक)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य और मनुष्य का काम" (भाग एक) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "वे जो मसीह से असंगत हैं निश्चय ही परमेश्वर के विरोधी हैं"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "वे जो मसीह से असंगत हैं निश्चय ही परमेश्वर के विरोधी हैं" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य और मनुष्य का काम" (भाग तीन)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य और मनुष्य का काम" (भाग तीन) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य और मनुष्य का काम" (भाग दो)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य और मनुष्य का काम" (भाग दो) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "सुसमाचार को फैलाने का कार्य मनुष्यों को बचाने का कार्य भी है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "सुसमाचार को फैलाने का कार्य मनुष्यों को बचाने का कार्य भी है" जो परमेश्वर को और उसके कार्य को जानते हैं केवल वे ही परमेश्वर को सन्तुष्ट कर सकते हैंजो परमेश्वर को और उसके कार्य को जानते हैं केवल वे ही परमेश्वर को सन्तुष्ट कर सकते हैं सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "सहस्राब्दि राज्य आ चुका है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "सहस्राब्दि राज्य आ चुका है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "व्यवस्था के युग में कार्य"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "व्यवस्था के युग में कार्य" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर और मनुष्य एक साथ विश्राम में प्रवेश करेंगे" (भाग एक)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर और मनुष्य एक साथ विश्राम में प्रवेश करेंगे" (भाग एक) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "जब परमेश्वर की बात आती है, तो तुम्हारी समझ क्या होती है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "जब परमेश्वर की बात आती है, तो तुम्हारी समझ क्या होती है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "केवल अंतिम दिनों का मसीह ही मनुष्य को अनन्त जीवन का मार्ग दे सकता है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "केवल अंतिम दिनों का मसीह ही मनुष्य को अनन्त जीवन का मार्ग दे सकता है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "तुम्हें पता होना चाहिए कि व्यावहारिक परमेश्वर ही स्वयं परमेश्वर है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "तुम्हें पता होना चाहिए कि व्यावहारिक परमेश्वर ही स्वयं परमेश्वर है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के स्वभाव को समझना अति महत्वपूर्ण है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के स्वभाव को समझना अति महत्वपूर्ण है" परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के कार्य के तीन चरणों को जानना ही परमेश्वर को जानने का मार्ग है" (भाग एक)परमेश्वर के कथन "परमेश्वर के कार्य के तीन चरणों को जानना ही परमेश्वर को जानने का मार्ग है" (भाग एक) परमेश्वर के कथन "तुम्हें पता होना चाहिए कि समस्त मानवजाति आज के दिन तक कैसे विकसित हुई" (भाग दो)परमेश्वर के कथन "तुम्हें पता होना चाहिए कि समस्त मानवजाति आज के दिन तक कैसे विकसित हुई" (भाग दो) परमेश्वर के कथन "देहधारी परमेश्वर और परमेश्वर द्वारा उपयोग किए गए लोगों के बीच महत्वपूर्ण अंतर"परमेश्वर के कथन "देहधारी परमेश्वर और परमेश्वर द्वारा उपयोग किए गए लोगों के बीच महत्वपूर्ण अंतर" परमेश्वर के कथन "मसीह न्याय का कार्य सत्य के साथ करता है" What Is Judgement of the Last Days? (Hindi)परमेश्वर के कथन "मसीह न्याय का कार्य सत्य के साथ करता है" What Is Judgement of the Last Days? (Hindi) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "तुझे अपने भविष्य मिशन से कैसे निपटना चाहिए"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "तुझे अपने भविष्य मिशन से कैसे निपटना चाहिए" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "पृथ्वी के परमेश्वर को कैसे जानें"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "पृथ्वी के परमेश्वर को कैसे जानें" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "विश्वासियों को क्या दृष्टिकोण रखना चाहिए"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "विश्वासियों को क्या दृष्टिकोण रखना चाहिए" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर सम्पूर्ण सृष्टि का प्रभु है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर सम्पूर्ण सृष्टि का प्रभु है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "पद नामों एवं पहचान के सम्बन्ध में" (भाग एक)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "पद नामों एवं पहचान के सम्बन्ध में" (भाग एक) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर की इच्छा की समरसता में सेवा कैसे करें"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर की इच्छा की समरसता में सेवा कैसे करें" जो सच्चे हृदय से परमेश्वर के आज्ञाकारी हैं वे निश्चित रूप से परमेश्वर के द्वारा ग्रहण किए जाएँगेजो सच्चे हृदय से परमेश्वर के आज्ञाकारी हैं वे निश्चित रूप से परमेश्वर के द्वारा ग्रहण किए जाएँगे The Word of the Holy Spirit | परमेश्वर के कथन "क्या तुम परमेश्वर के एक सच्चे विश्वासी हो?" (Hindi)The Word of the Holy Spirit | परमेश्वर के कथन "क्या तुम परमेश्वर के एक सच्चे विश्वासी हो?" (Hindi) परमेश्वर के कथन "तुम विश्वास के विषय में क्या जानते हो?" What Is True Faith in God? (Hindi)परमेश्वर के कथन "तुम विश्वास के विषय में क्या जानते हो?" What Is True Faith in God? (Hindi) मनुष्य के सामान्य जीवन को पुनःस्थापित करना और उसे एक बेहतरीन मंज़िल पर ले चलना (भाग दो)मनुष्य के सामान्य जीवन को पुनःस्थापित करना और उसे एक बेहतरीन मंज़िल पर ले चलना (भाग दो) परमेश्वर के कथन "तुम्हें पता होना चाहिए कि समस्त मानवजाति आज के दिन तक कैसे विकसित हुई" (भाग एक)परमेश्वर के कथन "तुम्हें पता होना चाहिए कि समस्त मानवजाति आज के दिन तक कैसे विकसित हुई" (भाग एक) मनुष्य के सामान्य जीवन को पुनःस्थापित करना और उसे एक बेहतरीन मंज़िल पर ले चलना (भाग एक)मनुष्य के सामान्य जीवन को पुनःस्थापित करना और उसे एक बेहतरीन मंज़िल पर ले चलना (भाग एक) मनुष्य के सामान्य जीवन को पुनःस्थापित करना और उसे एक बेहतरीन मंज़िल पर ले चलना (भाग तीन)मनुष्य के सामान्य जीवन को पुनःस्थापित करना और उसे एक बेहतरीन मंज़िल पर ले चलना (भाग तीन) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "भ्रष्ट मनुष्य परमेश्वर का प्रतिनिधित्व करने में अक्षम है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "भ्रष्ट मनुष्य परमेश्वर का प्रतिनिधित्व करने में अक्षम है" परमेश्वर पर विश्वास करना वास्तविकता पर केंद्रित होना चाहिए, न कि धार्मिक रीति-रिवाजों परपरमेश्वर पर विश्वास करना वास्तविकता पर केंद्रित होना चाहिए, न कि धार्मिक रीति-रिवाजों पर सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य एवं मनुष्य का रीति व्यवहार" (भाग तीन)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य एवं मनुष्य का रीति व्यवहार" (भाग तीन) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य एवं मनुष्य का रीति व्यवहार" (भाग दो)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य एवं मनुष्य का रीति व्यवहार" (भाग दो) मसीह के कथन "छुटकारे के युग में कार्य के पीछे की सच्ची कहानी" | Jesus' Salvation of the Cross (Hindi)मसीह के कथन "छुटकारे के युग में कार्य के पीछे की सच्ची कहानी" | Jesus' Salvation of the Cross (Hindi) सात गर्जनाएँ – भविष्यवाणी करती हैं कि राज्य के सुसमाचार पूरे ब्रह्माण्ड में फैल जाएंगेसात गर्जनाएँ – भविष्यवाणी करती हैं कि राज्य के सुसमाचार पूरे ब्रह्माण्ड में फैल जाएंगे मसीह के कथन "प्रतिज्ञाएं उनके लिए जो पूर्ण बनाए जा चुके हैं" | How to Get the Blessing of God (Hindi)मसीह के कथन "प्रतिज्ञाएं उनके लिए जो पूर्ण बनाए जा चुके हैं" | How to Get the Blessing of God (Hindi) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य एवं मनुष्य का रीति व्यवहार" (भाग एक)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का कार्य एवं मनुष्य का रीति व्यवहार" (भाग एक) परमेश्वर के कथन "अपनी मंज़िल के लिए तुम्हें अच्छे कर्मों की पर्याप्तता की तैयारी करनी चाहिए"परमेश्वर के कथन "अपनी मंज़िल के लिए तुम्हें अच्छे कर्मों की पर्याप्तता की तैयारी करनी चाहिए" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "जब तुम यीशु के आध्यात्मिक शरीर को देख रहे होगे ऐसा तब होगा जब परमेश्वर स्वर्ग और पृथ्वी को नये सिरे से बना चुका होगा"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "जब तुम यीशु के आध्यात्मिक शरीर को देख रहे होगे ऐसा तब होगा जब परमेश्वर स्वर्ग और पृथ्वी को नये सिरे से बना चुका होगा" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "सर्वशक्तिमान का आह भरना" | God's Waiting of loveसर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "सर्वशक्तिमान का आह भरना" | God's Waiting of love सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन:"'सहस्राब्दि राज्य आ चुका है' के बारे में एक संक्षिप्त वार्ता"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन:"'सहस्राब्दि राज्य आ चुका है' के बारे में एक संक्षिप्त वार्ता" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "राज्य का युग वचन का युग है" (भाग दो)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "राज्य का युग वचन का युग है" (भाग दो) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "राज्य का युग वचन का युग है" (भाग एक)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "राज्य का युग वचन का युग है" (भाग एक) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "बुलाए हुए बहुत हैं, परन्तु चुने हुए कुछ ही हैं"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "बुलाए हुए बहुत हैं, परन्तु चुने हुए कुछ ही हैं" परमेश्वर के कथन "देहधारी परमेश्वर की सेवकाई और मनुष्य के कर्तव्य के बीच अंतर भाग एक" (भाग 2)परमेश्वर के कथन "देहधारी परमेश्वर की सेवकाई और मनुष्य के कर्तव्य के बीच अंतर भाग एक" (भाग 2) परमेश्वर के कथन "देहधारी परमेश्वर की सेवकाई और मनुष्य के कर्तव्य के बीच अंतर भाग एक" (भाग 1)परमेश्वर के कथन "देहधारी परमेश्वर की सेवकाई और मनुष्य के कर्तव्य के बीच अंतर भाग एक" (भाग 1) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "क्या परमेश्वर का कार्य इतना सरल है, जितना मनुष्य कल्पना करता है?"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "क्या परमेश्वर का कार्य इतना सरल है, जितना मनुष्य कल्पना करता है?" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "क्या त्रित्व का अस्तित्व है?" (भाग 2)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "क्या त्रित्व का अस्तित्व है?" (भाग 2) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "क्या त्रित्व का अस्तित्व है?" (भाग 1)सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "क्या त्रित्व का अस्तित्व है?" (भाग 1) सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर मनुष्य के जीवन का स्रोत है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर मनुष्य के जीवन का स्रोत है" परमेश्वर के कथन "क्या तुम जानते हो? परमेश्वर ने मनुष्यों के बीच एक बहुत बड़ा काम किया है"परमेश्वर के कथन "क्या तुम जानते हो? परमेश्वर ने मनुष्यों के बीच एक बहुत बड़ा काम किया है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "तुम्हें मसीह की अनुकूलता में होने के तरीके की खोज करनी चाहिए"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "तुम्हें मसीह की अनुकूलता में होने के तरीके की खोज करनी चाहिए" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का प्रकटीकरण एक नया युग लाया है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "परमेश्वर का प्रकटीकरण एक नया युग लाया है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "आज परमेश्वर के कार्य को जानना"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "आज परमेश्वर के कार्य को जानना" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "उद्धारकर्त्ता पहले से ही एक 'सफेद बादल' पर सवार होकर वापस आ चुका है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "उद्धारकर्त्ता पहले से ही एक 'सफेद बादल' पर सवार होकर वापस आ चुका है" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "वास्तविकता को कैसे जानें"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "वास्तविकता को कैसे जानें" सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "केवल अंतिम दिनों का मसीह ही मनुष्य को अनन्त जीवन का मार्ग दे सकता है"सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कथन "केवल अंतिम दिनों का मसीह ही मनुष्य को अनन्त जीवन का मार्ग दे सकता है"

सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "परमेश्वर की इच्छा की समरसता में सेवा कैसे करें"

परमेश्वर के वचन के पाठ   0  

सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "परमेश्वर की इच्छा की समरसता में सेवा कैसे करें"

सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते हैं, "यदि तुम लोग परमेश्वर की इच्छा की सेवा करना चाहते हो, तो तुम लोगों को पहले यह अवश्य समझना चाहिए कि किस प्रकार के लोगों को परमेश्वर प्यार करता है, किस प्रकार के लोगों से परमेश्वर घृणा करता है, किस प्रकार के लोग परमेश्वर के द्वारा पूर्ण बनाए जाते हैं, और किस प्रकार के लोग परमेश्वर की सेवा करने के लिए योग्य होते हैं।यह सब से छोटी चीज़ है जिससे तुम लोगों को सज्जित होना चाहिए। इसके अतिरिक्त, तुम लोगों को परमेश्वर के कार्य के लक्ष्यों को, और उस कार्य को जानना चाहिए जिसे परमेश्वर अभी यहीँ करेगा। इसे समझने के पश्चात्, और परमेश्वर के वचनों के मार्गदर्शन के माध्यम से, तुम लोग सब से पहले प्रवेश करोगे और सबसे पहले परमेश्वर के महान आदेश को प्राप्त करोगे। जब तुम लोग परमेश्वर के वचनों के आधार पर वास्तव में अनुभव कर लोगे, और जब तुम लोग वास्तव में परमेश्वर के कार्य को जान लोगे, तो तुम लोग परमेश्वर की सेवा करने के लिए योग्य हो जाओगे। और जब तुम लोग उसकी सेवा करते हो तो तब होता है कि परमेश्वर तुम लोगों की आध्यात्मिक आँखों को प्रबुद्ध करता है, और तुम लोगों को परमेश्वर के कार्य की अधिक समझ प्राप्त करने एवं उसे अधिक स्पष्टता से देखने की अनुमति देता है। जब तुम इस वास्तविकता में प्रवेश करते हो, तो तुम्हारे अनुभव अधिक गम्भीर एवं वास्तविक हो जाएँगे, और तुम लोगों में से वे सभी जिन्हें इस प्रकार के अनुभव हुए हैं वे कलीसियाओं के बीच आने जाने और तुम लोगों के भाईयों और बहनों को, तुम लोगों की स्वयं की कमियों को पूरा करने के लिए दूसरे की मज़बूतियों पर प्रत्येक पक्ष का चित्रांकन प्रदान करने, और तुम लोगों की आत्माओं में एक अधिक समृद्ध ज्ञान प्राप्त करने में समर्थ हो जाएँगे। केवल इस प्रभाव को प्राप्त करने के बाद ही तुम लोग परमेश्वर की इच्छा की सेवा करने और अपनी सेवा के दौरान परमेश्वर के द्वारा पूर्ण बनाए जाने के योग्य बनोगे।"

ऐप को निशुल्क डाउनलोड करें

बेहतरीन वीडियो परमेश्वर के कार्य को समझने में आपकी मदद करेंगे

ऐप को निशुल्क डाउनलोड करें

बेहतरीन वीडियो परमेश्वर के कार्य को समझने में आपकी मदद करेंगे

अन्य श्रृंखलाओं में नवीनतम वीडियो