परमेश्वर आया है परमेश्वर ने शासन किया है | “चीनी सुसमाचार गायक-मण्डली 18वाँ प्रदर्शन”

गायक-मण्डली   701  

परिचय

परमेश्वर आदि और अंत है।

परमेश्वर आदि हैं,

परमेश्वर आदि हैं,

परमेश्वर आदि हैं,

और अंत हैं,

और अंत हैं,

और अंत हैं।

परमेश्‍वर बोनेवाले हैं,

परमेश्‍वर बोनेवाले हैं,

परमेश्‍वर बोनेवाले हैं,

और काटने वाले हैं (काटनेवाले)।

परमेश्वर आदि और अंत हैं; परमेश्‍वर बोनेवाले और काटनेवाले हैं।

परमेश्वर आदि और अंत हैं; परमेश्‍वर बोनेवाले और काटनेवाले हैं।

परमेश्वर आदि और अंत हैं; परमेश्‍वर बोनेवाले और काटनेवाले हैं।

परमेश्‍वर एक नए युग में आने के उद्देश्य से जानबूझकर देहधारी बन जाते हैं,

और जाहिर है, जब वे एक नए युग को शुरू करते हैं,

उन्होंने एक ही समय में पिछले युग को समाप्त किया है।

परमेश्वर आदि हैं (परमेश्वर आदि हैं) और अंत हैं (और अंत हैं);

यह वे ही हैं जो अपना काम संपन्न करते हैं

इसलिए उन्हें ही उस युग का समापन भी करना चाहिए।

यह प्रमाण है कि वे शैतान को पराजित (शैतान को पराजित) करते और संसार पर जय पाते हैं।

यह प्रमाण है कि वे संसार पर जय पाते हैं। हा! हा! हा! हा!

जब भी वे स्वयं मनुष्यों के बीच काम करते हैं, वह एक नए युद्ध का आरंभ होता है।

नए काम के आरंभ के बिना, स्वाभाविक रूप से पुराने काम का अंत नहीं होगा।

और पुराने का समापन न होना प्रमाण है कि शैतान के साथ युद्ध अभी समाप्त नहीं हुआ है।

शैतान के साथ युद्ध अभी समाप्त नहीं हुआ है। (हा!)

यदि स्वयं परमेश्वर मनुष्यों के बीच आकर अपने नए काम को संपन्न नहीं करते

मनुष्य शैतान के आधिपत्य से छूटकर स्वतंत्र नहीं होगा, मनुष्य शैतान के आधिपत्य,

और एक नया जीवन एवं नया आरंभ प्राप्त नहीं करेगा।

न्यथा मनुष्य सदैव ही पुराने युग में बना रहेगा

और हमेशा शैतान के पुराने प्रभाव के आधीन रहेगा।

शैतान के पुराने प्रभाव के आधीन रहेगा। हा! हा! हा! हा!

प्रत्येक युग जिसकी परमेश्वर अगुवाई करते हैं, मनुष्य के एक भाग को स्वतंत्र करता है,

और इस प्रकार परमेश्वर के काम के साथ-साथ मनुष्य एक नए युग में आगे बढ़ता जाता है।

परमेश्वर की विजय उन सबकी विजय है जो उसके पीछे चलते हैं।

परमेश्वर की विजय एक विजय है, एक विजय उनके लिए जो उसके पीछे चलते हैं।

प्रत्येक युग जिसकी परमेश्वर अगुवाई करते हैं, मनुष्य के एक भाग को स्वतंत्र करता है,

और इस प्रकार परमेश्वर के काम के साथ-साथ मनुष्य एक नए युग में आगे बढ़ता जाता है।

परमेश्वर की विजय उन सबकी विजय है जो उसके पीछे चलते हैं।

परमेश्वर की विजय उन सबकी विजय है जो उसके पीछे चलते हैं।

परमेश्वर आदि और अंत है।

परमेश्‍वर बोनेवाले और काटनेवाले हैं।

‘‘वचन देह में प्रगट हुआ’’ में ‘‘देहधारण के रहस्य (1)’’ से

चमकती पूर्वी बिजली, सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया का सृजन सर्वशक्तिमान परमेश्वर के प्रकट होने और उनका काम, परमेश्वर यीशु के दूसरे आगमन, अंतिम दिनों के मसीह की वजह से किया गया था। यह उन सभी लोगों से बना है जो अंतिम दिनों में सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कार्य को स्वीकार करते हैं और उसके वचनों के द्वारा जीते और बचाए जाते हैं। यह पूरी तरह से सर्वशक्तिमान परमेश्वर द्वारा व्यक्तिगत रूप से स्थापित किया गया था और चरवाहे के रूप में उन्हीं के द्वारा नेतृत्व किया जाता है। इसे निश्चित रूप से किसी मानव द्वारा नहीं बनाया गया था। मसीह ही सत्य, मार्ग और जीवन है। परमेश्वर की भेड़ परमेश्वर की आवाज़ सुनती है। जब तक आप सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों को पढ़ते हैं, आप देखेंगे कि परमेश्वर प्रकट हो गए हैं।

विशेष वक्तव्य: यह वीडियो प्रस्तुति सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कलीसिया द्वारा लाभ-के-लिए-नहीं (नॉट-फॉर प्रॉफिट) रचना के रूप में तैयार की गई थी। इस प्रस्तुति में दिखाई देने वाले अभिनेता लाभ-के-लिए-नहीं आधार पर अभिनय कर रहे हैं, और उन्हें किसी भी तरह से भुगतान नहीं किया गया है। यह वीडियो किसी भी तीसरे पक्ष को लाभ के लिए वितरित नहीं किया जा सकता है, और हमें आशा है कि हर कोई इसे खुले तौर पर साझा और वितरित करेगा। जब आप इसे वितरित करते हैं, तो कृपया स्रोत पर ध्यान दें। सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कलीसिया की सहमति के बिना, कोई भी संगठन, सामाजिक समूह या व्यक्ति इस वीडियो की सामग्री के साथ छेड़छाड़ नहीं कर सकता है या इसे गलत तरीके से प्रस्तुत नहीं कर सकता है।