वचन देह में प्रकट होता है

क्लीसिया में आने पर देहधारी मनुष्य के पुत्र के वचन (Ⅳ)